अंतत: पाकिस्‍तान ने कबूला कि आतंकी सरगना मसूद अजहर वहीं पर है और काफी बीमार है

नई दिल्‍ली: आतंकी सरगना मसूद अजहर को लेकर अंतत: पाकिस्तान ने माना कि वह वहीं पर पनाह लिए हुए है। जम्‍मू कश्‍मीर के पुलवामा में जैश-ए-मोहम्‍मद द्वारा सीआरपीएफ काफिले पर किए गए हमले और उसके बाद भारतीय वायुसेना की तरफ से पीओके में जैश के ठिकानों पर की गई कार्रवाई के बाद भारत-पाकिस्‍तान के बीच तनाव की स्थिति बनी हुई है। पाकिस्‍तान इस सबके गुनहगार आतंकी सरगना मसूद अजहर को लेकर अभी तक चुप्‍पी साधे हुए था, लेकिन अब उसके विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने कबूला है कि हां, मसूद अजहर पाकिस्‍तान में ही है।

अभिनंदन का अभिनंदन करने हाथों में तिरंगा लेकर अटारी-वाघा बॉर्डर पर जुटे लोग

इसके साथ ही कुरैशी ने कहा कि मसूद काफी अस्‍वस्‍थ है। कुरैशी ने एक समाचार चैनल से बात करते हुए यह कबूला है। विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने कहा कि पाकिस्तान कभी भी आगे नहीं बढ़ना चाहता है। भारत ने जब पाकिस्तान पर हमला किया था, तो चीजें बढ़ गई थीं। मसूद अजहर पर किए गए सवाल पर उन्‍होंने कहा कि युद्ध की किसी भी स्थिति को कम करने संबंधी कदम उठाने को लेकर हमारे दरवाजे खुले हैं। अगर उनके (भारत) पास अच्‍छे और पुख्‍ता सबूत है तो बैठिए, बात कीजिए। कृपया बातचीत शुरू करें और हम तर्कशीलता दिखाएंगे।

मसूद अजहर के पाकिस्‍तान में होने को लेकर किए गए सवाल पर उन्‍होंने स्‍वीकारा कि मेरी जानकारी के मुताबिक वह पाकिस्‍तान में है। उन्‍होंने आगे कहा कि वह अस्‍वस्‍थ है। वह इस हद तक अस्वस्थ है कि वह अपना घर नहीं छोड़ सकता, क्योंकि वह वास्तव में अस्वस्थ है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper