अध्यापक की पहचान उनके पठन-पाठन के क्रियाकलापों से होती है: दिनेश शर्मा

लखनऊ ब्यूरो। उप मुख्यमंत्री डाॅ. दिनेश शर्मा ने कहा है कि विद्यालयों में पढ़ाई के साथ-साथ छात्रों के मानसिक एवं शारीरिक विकास हेतु खेल-कूद प्रतियोगिताओं का भी आयोजन किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि अध्यापक की पहचान उनके वस्त्रों आदि से नहीं बल्कि उनके पठन-पाठन के क्रियाकलापों से होती है। मेरा मानना है कि यदि छात्र-छात्राओं को अच्छे ढ़ंग से पढ़ाया जायेगा तो वे नकल की तरफ आकर्षित नहीं होंगे। उन्होंने कहा कि सपना बड़ा देखना चाहिए और उसे पूर्ण मनोयोग, तत्परता एवं कड़ी मेहनत से साकार करने का प्रयास करना चाहिए। प्रदेश सरकार का प्रयास है कि प्रदेश में रिक्त अध्यापकों के पदोें को शीघ्र भर दिया जाये।

डाॅ. दिनेश शर्मा मंगलवार को नेताजी सुभाष चन्द्र बोस राजकीय महिला स्नातकोत्तर महाविद्यालय, अलीगंज, लखनऊ में दो दिवसीय अन्तर-महाविद्यालयी सांस्कृतिक एवं साहित्यिक समागम, उन्मेष-2018 कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि ये बातें कही। इस अवसर पर उन्होंने विभिन्न प्रतियोगिताओं में प्रथम स्थान पाने वाले छात्र-छात्राओं को अपने कर-कमलों से पुरस्कार प्रदान कर सम्मानित किया।

जिनमें मूक अभिनय प्रतियोगिता में रिचा सिंह, अल्पना (बार्डर रूप में) प्रतियोगिता में उन्नति श्रीवास्तव, कोलाज प्रतियोगिता में स्वीटी पाण्डेय, तत्क्षण भाषण प्रतियोगिता में ओम प्रकाश, मेंहदी प्रतियोगिता में रोशनी विमल, एकल गायन प्रतियोगिता में संध्या शर्मा, घट-सज्जा प्रतियोगिता में प्रियंका शर्मा, हास्य-काव्य मंच प्रतियोगिता में प्रिया भारती, पेस-पेन्टिग में उन्नति श्रीवास्तव, एकल नृत्य मेे रिचा सिंह तथा किस्सा गोई प्रतियोगिता में ओम प्र्रकाश शामिल हैं।

उपमुख्यमंत्री ने कहा कि नकलविहीन परीक्षाएं कराना शासन की सर्वोच्च प्राथमिकता है तथा वर्तमान सरकार समय से परीक्षा कराने और परीक्षाफल घोषित करने के लिए कटिबद्ध है। उन्होंने यह भी बताया कि महाविद्यालय को 1.35 करोड़ रुपये की स्वीकृति की गयी है, जिसे शिक्षण कक्ष, स्मार्ट-क्लास, ई.लाइब्रेरी, कम्प्यूटर कक्ष आदि के निर्माण पर व्यय किया जायेगा। उन्होंने यह भी बताया कि महाविद्यालय की आवश्यकता को देखते हुए शौचालय का भी निर्माण कराया जायेगा।

प्रतियोगिता में प्रथम स्थान पाने वाले छात्र-छात्राओं को सम्मानित किया गया

डाॅ.नीरज बोरा विधायक लखनऊ उत्तर तथा नेताजी सुभाष चन्द्र बोस राजकीय महिला स्नातकोत्तर महाविद्यालय की प्राचार्या डाॅ. अनुराधा तिवारी द्वारा महाविद्यालय के गैर शैक्षणिक कार्यो की पूर्ति के लिए 30 लाख रुपये की मांग की गयी। इस पर डाॅ. दिनेश शर्मा ने कार्य की आवश्यकता को दृष्टिगत 30 लाख रुपये की मांग का परीक्षणोपरान्त धनराशि उपलब्ध कराये जाने के निर्देश दिये।

उप मुख्यमंत्री डाॅ. दिनेश शर्मा ने इस अवसर पर पूर्व प्रधानमंत्री स्व.अटल बिहारी बाजपेयी के चित्र का अनावरण किया। सुभाष चन्द्र बोस राजकीय महिला स्नातकोत्तर महाविद्यालय, अलीगंज में स्थापित अटल बिहारी बाजपेयी कम्प्यूटर कक्ष का लोकार्पण तथा पुस्तक मेले का उद्घाटन भी किया।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper