अमृतसर में मां-बेटी को बंधक बनाकर 17 लाख की लूट, वारदात में नौकर दंपती भी शामिल

अमृतसर में मॉल रोड के साथ सटे वाइट एवेन्यू की कोठी नंबर 69 में एक सप्ताह पहले रखे नेपाली दंपती नौकर अपने साथियों की मदद से 17 लाख की नगद राशि सहित एक रिवाल्वर, तीन मोबाइल फोन और इनोवा गाड़ी लूट कर फरार हो गए। आरोपी अलमारी में पड़े लाखों के जेवर भी ले गए हैं। घटना रविवार देर रात 11 बजे की है। कोठी के मालिक कारोबारी रवि अरोड़ा की बहू ने बताया कि एक हफ्ते पहले घर के कामकाज के लिए रखे नेपाली दंपती ने अपने कुछ साथियों को रात में चुपके से कोठी में प्रवेश करवाया। उस समय परिवार के सदस्य ऊपरी मंजिल में थे। रात लगभग 11 बजे वह अपनी बेटी के साथ सो रही थी।

अचानक तीन लोग उसके कमरे में घुस आए। उनके हाथ में तेजधार हथियार थे। आते ही आरोपियों ने उसके व बेटी के बाल पकड़ लिए और तेजधार हथियार दोनों की गर्दन पर रख दिया। आरोपियों ने उन्हें धमकाया कि शोर मचाया तो मार देंगे। जो कुछ भी है, वह अलमारियों से निकाल दो। उन्होंने अपनी अलमारी में जो रखा था वह उन्हें दे दिया।

इसके बाद आरोपी उन्हें और बेटी को नीचे लेकर आ गए। नीचे आकर उन्होंने देखा कि नेपाली दंपती नौकर हंस रहा था। दंपति ने उन्हें घर की एक-एक अलमारी के बारे में बताया। जहां पापा सो रहे थे, आरोपी उस दरवाजे को तोड़ने की कोशिश करने लगे। दरवाजा नहीं टूटा, लेकिन शोर से पापा उठ गए। पापा ने 100 नंबर पर दो बार कॉल किया लेकिन कोई भी जवाब नहीं मिला। पापा ने रिवाल्वर निकाला लेकिन आरोपियों ने दरवाजा तोड़कर उन पर हमला कर दिया। इसके बाद आरोपियों ने उन्हें, बेटी और पापा का मुंह हाथ बांधकर घर को लूट लिया। जाते जाते आरोपी उनकी इनोवा गाड़ी भी ले गए।

एसएचओ मंजीत सिंह धालीवाल ने बताया कि रात एक बजे उन्हें कंट्रोल रूम से जानकारी मिली थी कि अमृतसर नंबर की एक इनोवा गाड़ी धारीवाल के नजदीक एक गांव के बाहर खड़ी है। गाड़ी पंचर होने के बाद आरोपी गाड़ी छोड़कर भाग गए थे। पुलिस ने रात ढाई बजे इस गाड़ी को कब्जे में ले लिया। आरोपी नेपाली नौकर वारदात के बाद गुरदासपुर की तरफ भागे हैं। पुलिस ने टोल प्लाजा की फुटेज खंगालनी शुरू कर दी है। नियमों के अनुसार कोठी के मालिक को नौकरी पर रखे नेपाली दंपती के बारे में पुलिस को सूचना देनी चाहिए थी जो इन्होंने नहीं दी।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper