अमेठी व रायबरेली में राहुल-सोनिया को घेरने की तैयारी

दिल्ली ब्यूरो: बीजेपी की लड़ाई अब आर -पार की है। किसी से कोई मुरौबत नहीं। अगला लोकसभा चुनाव हर हॉलमे जितनाहै तो बीजेपी कोई भी दाव लगाने को तैयार है। बीजेपी के भीतर अब इस बात की रणनीति बन रही है कि अगले चुनाव में राहुलगांधी और सोनिया गांधी को उनके क्षेत्र अमेठी और रायबरेली में पस्त कर दिया जाय। रणनीति के तहत इस बार चुनाव में भी राहुलके सामने स्मृति ईरानी चुनाव लड़ने जा रही है। केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी फिर से अमेठी में सक्रिय भी हो गई हैं।

पिछली बार उन्होंने राहुल गांधी को कड़ी टक्कर दी थी। राहुल गांधी महज एक लाख वोट से जीत पाए थे। रायबरेली सीट पर पिछली बार भाजपा ने आरटीआई कार्यकर्ता अजय अग्रवाल को उतारा था। इस बार कहा जा रहा है कि कांग्रेस छोड़ कर भाजपा का दामन थामने वाले पूर्व विधायक दिनेश सिंह को चुनाव में उतारा जा सकता है। कांग्रेस के राज्यसभा सांसद और अमेठी के राजा संजय सिंह की पत्नी गरिमा सिंह को भी भाजपा कहीं से चुनाव में उतार सकती है।

बताया जा रहा है कि आम आदमी पार्टी से जुड़े रहे कवि कुमार विश्वास पर भी भाजपा की नजर है। वे आप से नाराज हैं और उससे लगभग अलग हो गए हैं। पिछली बार वे आप की टिकट से अमेठी सीट से लड़े थे और तीसरे स्थान पर रहे थे। वे यूपी के ही रहने वाले हैं और ब्राह्मण हैं। भाजपा के नेता मान रहे हैं कि वे अगर भाजपा में शामिल होते हैं तो सोनिया और राहुल दोनों को टक्कर देने के लिए उनको उतारा जा सकता है।

भाजपा के जानकार सूत्रों के मुताबिक पार्टी इन दोनों सीटों को लेकर खास तैयारी कर रही है। रायबरेली सीट को लेकर यह रणनीति भी बन रही है कि अगर सोनिया गांधी लडीं तो भाजपा का कौन उम्मीदवार होगा और अगर वे नहीं लड़ीं तो किसे उतारा जाएगा। चर्चा है कि इस बार शायद वे लोकसभा का चुनाव नहीं लड़ें। हालांकि प्रियंका गांधी ने कहा था कि उनकी मां चुनाव लड़ेंगी।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...

लखनऊ ट्रिब्यून

Vineet Kumar Verma

E-Paper