अमोद कुमार सचान बने केजीएमयू के फार्माकोलॉजी के नये विभागाध्‍यक्ष

लखनऊ। किंग जॉर्ज चिकित्सा विश्वविद्यालय के फार्माकोलॉजी विभाग के विभाग्यध्यक्ष प्रो ए. के.सक्सेना के सेवानिवृत्त होने के फलस्वरूप चिकित्सा विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो० एमएलबी भट्ट द्वारा वरिष्ठता के आधार पर प्रो अमोद कुमार सचान को फार्माकोलॉजी विभाग का नया विभागाध्यक्ष मनोनीत किया गया है।

विभाग की फैकल्‍टी, कर्मचारियों व अन्‍य लोगों ने सेवानिवृत्ति पर प्रो एके सक्‍सेना को भावपूर्ण विदाई दी। नये विभागाध्‍यक्ष प्रो अमोद कुमार सचान ने प्रो एके सक्‍सेना को माला पहनाकर विदाई देते हुए शुभकामनायें दीं। प्रो सक्‍सेना ने उनको मिले सहयोग के लिए सभी का आभार जताया। आपको बता दें कि प्रो सक्‍सेना फार्माकोलॉजी विभाग के मुखिया होने के साथ ही मुख्‍य प्रवेक्षक (चीफ प्रोवोस्‍ट), पटेल छात्रावास के प्रोवोस्‍ट तथा केजीएमयू की एनिमल एथिक्‍स कमेटी के चेयरमैन भी थे।

नये विभागाध्‍यक्ष प्रो सचान से नयी जिम्‍मेदारी मिलने के बाद प्राथमिकतायें पूछने पर उन्‍होंने कहा कि पूर्व में हुए विभाग के अपग्रेडेशन को फि‍र से स्‍थापित करते हुए संस्‍थान (त‍ब के केजीएमसी) के प्रिंसिपल रह चुके डॉ डॉ केपी भार्गव के कार्यकाल के समय की ग्‍लोरी में पहुंचाना ही मेरा उद्देश्‍य है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper