अवैध खनन मामला: गायत्री के आवास समेत 22 ठिकानों पर छापे

लखनऊ: सपा सरकार में मंत्री रहे गायत्री प्रसाद प्रजापति सहित अवैध खनन मामले से जुड़े नेताओं व अफसरों के 22 ठिकानों पर बुधवार को सीबीआई ने छापेमारी की। इनमें हमीरपुर के 11 ठिकाने, दिल्ली -4, नोएडा-4 और अमेठी के 3 ठिकाने शामिल हैं। जांच एजेंसी ने छापों के दौरान केस से जुड़े कई अहम दस्तावेज, Rs दो करोड़ और दो किलो सोना बरामद किया है। गायत्री प्रसाद रेप के आरोप में जेल में बंद हैं। मामले को लेकर सीबीआई ने उनके भतीजे से पूछताछ की।

सपा सरकार में हमीरपुर में हुए अवैध खनन की जांच करने सीबीआई टीम बुधवार को वहां पहुंची। वहां टीम ने सपा एमएलसी रमेश मिश्रा, उनके भाई, पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष व अन्य मौरंग कारोबारियों के आवासों पर ताबड़तोड़ छापामार कार्रवाई की। माइनिंग क्लर्क राम आसरे प्रजापति के हमीरपुर स्थित आवास पर भी सीबीआई रेड हुई। इनके यहां से कई ऐसे दस्तावेज बरामद हुए हैं, जिनसे कई बड़े लोगों पर आंच आ सकती है। इसी विभाग से रिटार्यड क्लर्क राम अवतार सिंह के जालौन स्थित मकान पर छापा पड़ा।

यह क्लर्क वर्ष 2016 में रिटायर हुआ था। इसके यहां से Rs दो करोड़ और दो किलो सोना बरामद किया है। सीबीआई की 15 सदस्यीय टीम ने हमीरपुर की राठ तहसील में चार मौरंग कारोबारियों के घर पर भी छापा मारा। एक साल बाद फिर सीबीआई टीम ने राठ कस्बा निवासी राकेश दीक्षित, मदन ददरी, जगदीश गोहनी व संजय के गहरौली स्थित घर में छापा मारा। इनसे करीब चार घण्टे पूछताछ हुई। अमेठी से प्राप्त रिपोर्ट के अनुसार लखनऊ से आये सीबीआई अधिकारियों ने गायत्री प्रसाद प्रजापति के आवास विकास स्थित घर पर सुबह छापा मारा। उन्होंने घर में मौजूद सदस्यों के बयान भी दर्ज किये।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper