अवैध सम्बन्ध से नाराज पत्नी और बेटे ने सुपारी देकर कराई समरजहां की हत्या

देहरादून: राजधानी देहरादून में सहस्रधारा रोड पर हुए समरजहां हत्याकांड का पुलिस ने शुक्रवार को खुलासा कर दवा कारोबारी राकेश गुप्ता, उसकी पत्नी सीमा और बेटे कार्तिक सहित घटना में शामिल मोमिन को गिरफ्तार किया है। समरजहां पर गोली चलाने वाला शूटर अभी भी पुलिस की गिरफ्त से दूर है। एसएसपी निवेदिता कुकरेती ने शुक्रवार को बताया कि समरजहां कारोबारी राकेश गुप्ता के साथ लिव इन में रहती थी और वह तलाकशुदा थी। समरजहां राकेश गुप्ता पर शादी करने व प्रापर्टी में हिस्सा देने का दबाव बना रही थी। समरजहां को लेकर गुप्ता परिवार में कड़वाहट तब और बढ़ गई जब आठ महीने पहले राकेश गुप्ता ने समरजहां को रुड़की शिफ्ट कर दिया।

चार लाख रुपये में दिया समरजहां के हत्या की सुपारी
मां के कहने पर कार्तिक ने मुजफ्फरनगर के कुख्यात गैंगस्टर के गुर्गे मोमिन से संपर्क किया और मोमिन व उसके अन्य साथी को समरजहां की हत्या करने के लिये चार लाख रुपये देने का वादा किया। इसमें से दो लाख रुपये कार्तिक ने मोमिन को सहस्त्रधारा रोड पर अपने रेस्टोरेन्ट के पास एडवांस में दिया। कार्तिक ने समरजहां व उसके फ्लैट को भी उसी दिन दिखाया था। इसके बाद छह मई को मोमिन ने समरजहां के फ्लैट की रेकी की। सात मई को रात में नौ बजे के लगभग समरजहां की गोली मारकर हत्या कर दी गई।

समरजहां की वजह से होती थी मां और पिता में लड़ाई: कार्तिक
कार्तिक ने पुलिस पूछताछ में बताया कि पिता के समरजहां से अवैध सम्बन्ध थे। इस कारण उसकी मां और पिता में अक्सर झगड़े होते रहते थे। उसके पिता द्वारा समरजहां पर काफी खर्चा किया जाता था। समरजहां उसके पिता पर शादी करने व प्रापर्टी में आधा हिस्सा देने का दबाव बना रही थी। इससे उसके पिता राकेश भी तंग हो गया था। इस पर उसने अपनी मां व पिता के कहने पर समरजहां को अपने रास्ते से हटाने की योजना बनाई व हत्या की सुपारी में एडवांस में दो लाख रुपया दिया गया, जो कार्तिक को उसके पिता राकेश द्वारा ही दिया गया था।

समरजहां मांग रही थी प्रापर्टी में हिस्सा
बाद में राकेश की पत्नी सीमा सिंघल से पुलिस ने पूछताछ की तो उनके द्वारा बताया गया कि राकेश गुप्ता के समरजहां से छह-सात सालों से अवैध सम्बन्ध थे। समरजहां की शादी भी राकेश गुप्ता ने दबाव देकर तुड़वा दी थी। अब समरजहां राकेश गुप्ता पर शादी करने व प्रापर्टी में हिस्सा देने का दबाव बना रही थी। समरजहां से किसी तरह पीछा छु़ड़ाना चाहते थे। इस कारण उनके द्वारा अपने बेटे कार्तिक को दो लाख रुपये देकर समरजहां की हत्या की योजना बनाकर सुपारी देकर उसकी हत्या करवा दी।

राकेश गुप्ता भी हो सकता है हत्या में शामिल
दवा कारोबारी राकेश गुप्ता ने कहा कि पुलिस इस मामले में उसे बेवजह घसीट रही है। मुझे मालूम होता कि मेरा बेटा कार्तिक समरजहां की जान लेने वाला है तो मैं अपने बेटे का ही गला घोंट देता। उसने कहा कि सब कुछ ठीक चल रहा था। मैं समरजहां का ख्याल तो रख रहा था लेकिन मेरा परिवार सड़क पर नहीं आया था। फिलहाल पुलिस का दावा है कि इस हत्याकांड में दवा कारोबारी राकेश गुप्ता की भी शामिल है। गिरफ्तार आरोपितों में संजय मार्ग (मुजफ्फरनगर) निवासी राकेश गुप्ता, सीमा सिंघल पत्नी राकेश गुप्ता, कार्तिक पुत्र राकेश गुप्ता एवं चन्दैना खोली-सहारनपुर निवासी मोमिन शामिल है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper