आंध्र नौका दुर्घटना में 12 शव बरामद, तलाशी अभियान जारी

(Last Updated On: 16/05/2018 7:08 PM)

विजयवाड़ा: गोदावरी नदी में मंगलवार शाम नौका पलटने की घटना में लापता लोगों की तलाश के लिए बुधवार को भी अभियान जारी है। तलाशी के दौरान दो बच्चों सहित 12 शव बरामद हुए हैं। बचाव कर्मियों ने नौकाओं और भारी क्रेनों की सहायता से डूबी नौका को बाहर निकाला। इससे पहले, नौसेना ने डूबी नौका का पता लगाया, जिसके बारे में कहा गया है कि यह 60 फुट की गहराई पर मिली है।

नौसेना के हेलीकॉप्टर की मदद से बचाव कार्य में नौसेना की टीम, राज्य आपदा प्रबंधन विभाग और राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (एनडीआरएफ) के कर्मचारी शामिल हैं। बचाव अभियान का जायजा लेने घटनास्थल पर पहुंचे मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू ने पत्रकारों से कहा कि अभी 10 और शव बाहर निकाले जाने बाकी हैं। यह घटना पूर्वी गोदावरी जिले के देवीपट्टनम ब्लॉक में मंटुरु के पास शाम पांच बजे के करीब घटित हुई।

कोंदामोदालु से रवाना हुई नौका राजामहेंद्रवरम की ओर जा रही थी। माना जा रहा है कि तेज हवाओं के चलते यह हादसा हुआ। नायडू ने हर मृतक के परिजन को 10 लाख रुपये सहायता राशि देने का ऐलान किया। उन्होंने कहा कि सरकार पीड़ितों के परिवार के एक सदस्य को नौकरी मुहैया कराएगी और उनके बच्चों के लिए निशुल्क शिक्षा की व्यवस्था करेगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि मानवीय भूल की वजह से यह हादसा हुआ। उन्हें जानकारी दी गई कि नौका पर सीमेंट की बोरियां और दोपहिया वाहन लदे हुए थे। जब तेज हवा चलने लगी और बारिश होने लगी तो नौका में सवार लोगों ने खिड़कियां बंद कर दी और नौका डूबने लगी। खिड़कियों के बंद होने से बच निकलने का रास्ता भी बंद हो गया।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
loading...
E-Paper