आईपीएस अधिकारी ने डीजीपी चयन प्रक्रिया पर याचिका दायर की

लखनऊ: वरिष्ठ आईपीएस अधिकारी और महानिदेशक (नागरिक सुरक्षा) जे.एल. त्रिपाठी ने इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ पीठ में याचिका दायर की है, जिसमें उन्होंने उत्तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) की मौजूदा चयन प्रक्रिया को चुनौती दी है। याचिका पर शुक्रवार को सुनवाई होगी।

उत्तर प्रदेश के वर्तमान डीजीपी ओ.पी. सिंह 31 जनवरी को सेवानिवृत्त होंगे। योगी आदित्यनाथ की सरकार ने संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) को सात नामों का पैनल भेजा है, जिसमें से तीन नामों का चयन किया जाएगा।

1986 बैच के अधिकारी जे.एल. त्रिपाठी का नाम इस सूची में नहीं है। ग्रेडेशन सूची के अनुसार त्रिपाठी राज्य में तीसरे वरिष्ठतम अधिकारी हैं। याचिका में उन्होंने कहा है कि उनसे जूनियर अधिकारियों के नाम यूपीएससी को भेजे गए हैं, जबकि उन्हें सूची से बाहर रखा गया है, जो कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश का उल्लंघन है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper