इस गाँव में पैदा होती हैं सिर्फ लड़कियां, मेयर ने कहा- बेटा पैदा करने वाले को दूंगा यह…

लखनऊ: क्या आप किसी ऐसे गांव के बारे में जानते हैं जहां सिर्फ लड़कियां ही पैदा होती है। अगर नहीं तो हम आपको उस गांव के बारे में बताने जा रहे हैं। उस गांव का नाम मिजेस्के ओद्रजेनस्की है। यहां सिर्फ बेटियां ही पैदा होती है। यह पोलैंड और चेक रिपब्लिक की सीमा पर स्थित है। इस गांव में पिछले नौ सालों से किसी भी लड़के ने जन्म नहीं लिया है।

बताया जा रहा है कि इस गांव में आखिरी बार साल 2010 में एक लड़के का जन्म हुआ था, हालांकि उसके बाद लड़का और उसके परिवार वाले गांव छोड़कर दूसरी जगह चले गएथे। यहां की आबादी फिलहाल 300 के करीब की है, जिसमें लड़कियों और महिलाओं की संख्या सबसे ज्यादा है और लड़के न के बराबर यहां पर है।

गांव में फिलहाल जो सबसे छोटा लड़का है, वह 12 साल है। मीडिया रिपोर्ट्स की माने तो, यहां लड़कियां तो अक्सर पैदा होती हैं, हालांकि लड़कों का जन्म काफी दुर्लभ है और यही वजह है कि यहां के मेयर रेजमंड फ्रिशको द्वारा यह एलान किया गया है कि जिसके घर बेटा पैदा होगा, उसे इनाम मिलेगा।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper