इस तरीके से होगा कोरोना मरीजों का इलाज, संक्रमित का खून आएगा काम

नई दिल्ली। कोरोना वायरस जहां एक और पूरी दुनिया संकट में है वहीं इस जानलेवा वायरस के बचाव से जुड़ी एक अच्छी खबर सामने आ रही है। कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों के खून से इलाज किया जा रहा है। यह तरीका काफी कारगर हैै, इससे चीन के तीन मरीजों को ठीक किया गया है। हालांकि अभी भी 2 और मरीजों का इलाज जारी है।

चीनी मीडिया के अनुसार चीन के द शेनझेन थर्ड पीपुल्स हॉस्पिटल ने अपने इलाज के इस तरीके की रिपोर्ट 27 मार्च को आई थी। अस्पताल की और से बताया गया कि जिन पांच मरीजों का इलाज पुराने कोरोना मरीजों के खून से किया गया था वो 36 से 73 साल के बीच थे। अस्पताल के उप-निर्देशक लिउ यिंगजिया ने बताया कि हमने 30 जनवरी से ही कोरोना से ठीक हुए मरीजों को खोजना शुरू कर दिया था। उनके खून लिए फिर उसमें से प्लाज्मा निकाल कर स्टोर कर लिया।

जब नए मरीज आए तो उन्हें इसी प्लाज्मा का डोज दिया गया। लिउ यिंगजिया ने बताया कि हमें उम्मीद है कि हमारी इस बेसिक तकनीक का उपयोग पूरी दुनिया कर सकती है। जानकारों की माने तो नए मरीजों के खून में पुराने ठीक हो चुके मरीज का खून डालकर प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाई जाती है। इस तकनीक को कोवैलेसेंट प्लाज्मा कहते हैं। विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार कोरोना से लड़ने के लिए यह एक कारगर और अच्छा उपाय है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper