उद्योगपति राहुल बजाज ने की मोदी सरकार की तीखी आलोचना, अमित शाह ने दिया जवाब

बजाज समूह (Bajaj Group) के चेयरमैन राहुल बजाज (Rahul bajaj) ने सरकार की नीतियों की जमकर आलोचना करते हुए एक मीडिया समूह के कार्यक्रम में कहा है कि देश में इस समय डर का महौल है। ऐसे महौल में किसी में हिम्मत नहीं है कि वह सरकार की आलोचना (Criticism) कर सके। बता दें कि जिस समय यह बात की जा रही थी उस समय उनके सामने गृहमंत्री अमित शाह (Amit shah), वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala sitharaman) समेत रेल मंत्री पीयूष गोयल (Piyush Goyal) भी बैठे हुए थे।

क्या बोले बजाज
बजाज ने एक मीडिया कार्यक्रम में देश के महौल पर बात करते हुए कहा कि ” हमारे कोई भी उद्योगपति (Industrialist) दोस्त इस बारे में बात नहीं करेंगे। वह करते हैं कि जब यूपीए-2 (UPA-2) की सरकार थी जब हम लोग खुलकर आलोचना कर सकते थे। ऐसा ही महौल फिर से बनाना होगा। वह कहते हैं कि आपकी सरकार अच्छा काम कर रही हैं मगर उसके बाद भी अगर कोई खुलेतौर पर आलोचना करे तो हमें विश्वास नहीं है कि आप तारीफ करेंगे। हो सकता है कि मैं गलत हूं मगर सभी इस समय यही महसूस कर रहे हैं।

शाह ने दिया जवाब
उनके सवाल का जवाब देते हुए गृहमंत्री अमित शाह कहते हैं कि किसी को डरने की जरुरत नहीं है। और नहीं कोई किसी को डराना चाहता है अगर फिर भी बजाज ऐसा कह रहे हैं तो हम ऐसे महौल को सुधारेंगे। वह कहते हैं कि हमारी सरकार बहुत ही पारदर्शी (Transparent) तरीके से चल रही है, और हमें किसी भी प्रकार के विरोध का डर नहीं है। और कोई विरोध करेगा तो हम उसकी मेरिट को देखकर अपने आप में सुधार का प्रयास करेंगे।
राजकोट में हुआ आठ साल की बच्ची से बलात्कार

लिंचिग पर भी उठाए सवाल
बजाज ने लिंचिग (Mob Lynching) पर सवाल उठाते हुए कहा कि लिंचिंग, इंटॉरलेंस की हवा बनाती है। वह कहते हैं कि हम डरते हैं हम कुछ चीजों को लेकर बोलना नहीं चाहते लेकिन अभी तक किसी आरोपी को सजा नहीं मिली है। जिसके जवाब में शाह कहते हैं कि यह कहना सही नहीं है लिंचिग पहले नहीं होती थी। और हां यह कहना भी ठीक नहीं है कि किसी को सजा नहीं मिली है। वह कहते हैं कि बहुत सारे मामलों में सजा हुई है लेकिन मीडिया उन्हें नहीं दिखाता है।

प्रज्ञा सिंह ठाकुर का उठाया मुद्दा।
राहुल ने प्रज्ञा ठाकुर (pragya singh Thakur) का मुद्दा भी उठाया उन्होंने कहा कि आप हम सब जानते हैं कि कुछ लोग गांधी जी के हत्यारों का समर्थन करते हैं फिर भी आपकी सरकार उन पर कार्यवाही नहीं की जाती। जिसके जवाब में शाह कहते हैं कि रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath singh) पहले ही प्रज्ञा ठाकुर के बयान की निंदा कर चुके है। और हमारी पार्टी उनके बयान का समर्थन नहीं करती।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper