उप्र के सीएम योगी के पिता पंचतत्व में विलीन, त्रिवेंद्र सिंह रावत और बाबा रामदेव रहे मौजूद

देहरादून: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के पिता आनंद सिंह बिष्ट पंचतत्व में विलीन हो गए। उनका आज (मंगलवार)अंतिम संस्कार हो गया। लॉकडाउन की वजह से यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ पिता के अंतिम संस्कार में भाग नहीं ले सके। इस दौरान उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत और बाबा रामदेव भी मौजूद थे। इससे पहले सीएम रावत ने यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ के पिता आनंद सिंह बिष्ट को अंतिम श्रद्धांजली दी। दाह संस्कार के दौरान माइक से लॉकडाउन के नियमों का पालन करने और मुंह ढंक कर रखने की अपील की जा रही थी।

गौरतलब है कि पिता के निधन की जानकारी जब यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ को मिली वे उस दौरान लखनऊ में एक महत्वपूर्ण बैठक कर रहे थे। इसकी जानकारी मिलने के बाद सीएम की आंखें कुछ देर के लिए नम हो गईं। इसके बावजूद अधिकारियों के साथ सीएम की होनी वाली बैठक जारी रही। इस दौरान वह अधिकारियों को लगातार कोरोना संक्रमण समेत कई अन्य मुद्दों पर दिशा-निर्देश देते रहे।

मालूम हो कि सीएम योगी के पिता का सोमवार को निधन हो गया था। यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ के पिता आनंद सिंह बिष्ट का सोमवार को दिल्ली के एम्स हॉस्पिटल में इलाज के दौरान निधन हो गया था। वे उत्तराखंड के पौड़ी गढ़वाल जिले के यमकेश्वर तहसील के पंचुर गांव के रहने वाले थे। बिष्ट फॉरेस्ट विभाग में रेंजर रह चुके थे।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper