एक साल में 3,000 रन बनाने वाले दुनिया के पहले खिलाड़ी बन सकते हैं विराट कोहली

नई दिल्ली: क्रिकेट का अंतरराष्ट्रीय इतिहास 141 साल पुराना है. इस दौरान हजारों रिकॉर्ड बने और टूटे भी. लेकिन आज तक ऐसा एक भी बल्लेबाज नहीं हुआ, जिसने इंटरनेशनल क्रिकेट में एक साल (कैलेंडर ईयर) में 3,000 रन बनाए हों. इस आंकड़े के सबसे नजदीक श्रीलंका के कुमार संगकारा पहुंचे हैं. उन्होंने 2014 में 48 मैच में 2,868 रन बनाए थे. यानी, वे भी 132 रन से 3,000 के जादुई आंकड़े से दूर रह गए थे. अब भारतीय कप्तान विराट कोहली इस रिकॉर्ड के करीब हैं. अगर उन्होंने उम्मीद के अनुरूप प्रदर्शन किया तो संगकारा को पीछे छोड़ते हुए 3,000 रन का माइलस्टोन छू सकते हैं.

आखिर अभी कहां खड़े हैं विराट कोहली
विराट कोहली ने 2018 में तीनों फॉर्मेट मिलाकर 34 मैच (10 टेस्ट, 14 वनडे, 10 टी20) खेले हैं. उन्होंने इन 34 मैच की 41 पारियों में 72.82 की औसत से 2,476 रन बनाए हैं. कोहली के 2,476 रन में 10 शतक भी शामिल हैं, जो साल में सबसे अधिक भी हैं. उन्होंने इस साल इंग्लैंड में पांच मैचों की सीरीज में 593 रन बनाए थे. इसी तरह विंडीज के खिलाफ दो टेस्ट की दो पारियों में 184 रन बनाए. भारतीय कप्तान को इस साल महज 14 वनडे खेलने का मौका मिला, जिसमें उन्होंने 133.55 की औसत से 1202 रन बनाए. कोहली को फिटनेस को ध्यान में रखते हुए भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) ने उन्हें टी20 और वनडे क्रिकेट में बार-बार रेस्ट दिया.

3,000 के जादुई आंकड़े से 524 रन दूर
भारत को इस साल अब सिर्फ तीन टेस्ट मैच खेलने हैं. ये तीनों मैच ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ होने हैं. विराट कोहली को अगर इंटरनेशनल क्रिकेट में एक साल में 3,000 रन के जादुई आंकड़े को छूना है, तो उन्हें इन मैचों में कम से कम 524 रन बनाने होंगे. जाहिर है, यह इतना भी आसान नहीं होगा. लेकिन अगर विराट कोहली ऑस्ट्रेलिया के पिछले दौरे और हाल ही में इंग्लैंड के खिलाफ अपने प्रदर्शन को दोहराते हैं तो विश्व रिकॉर्ड बना सकते हैं. विराट कोहली ने 2014-15 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 86.50 की औसत से कुल 696 रन बनाए थे.
विराट कोहली अगर 3,000 रन का जादुई आंकड़ा नहीं छू पाएं, तो भी उनके पास एक साल में सबसे अधिक रन बनाने का रिकॉर्ड अपने नाम करने का मौका होगा. अभी यह रिकॉर्ड श्रीलंका के कुमार संगकारा (2,868) के नाम है. विराट अगर इस साल 393 रन बना लेते हैं, तो वे संगकारा से आगे निकल जाएंगे. भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच छह दिसंबर से चार मैचों की टेस्ट सीरीज शुरू हो रही है. इनमें से तीन टेस्ट इसी साल और एक टेस्ट अगले साल खेला जाएगा.

संगकारा का शतकों का रिकॉर्ड भी टूटेगा
विराट कोहली के निशाने पर कुमार संगकारा का सिर्फ रनों का रिकॉर्ड ही नहीं है, बल्कि शतकों का रिकॉर्ड भी है. संगकारा ने क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट को मिलाकर 63 शतक लगाए हैं. वे इस मामले में सिर्फ सचिन तेंदुलकर (100) और ऑस्ट्रेलिया के रिकी पोंटिंग (71) से ही आगे हैं. विराट कोहली और जैक कैलिस 62-62 शतकों के साथ संयुक्त रूप से चौथे नंबर पर हैं. यानी, विराट एक शतक बनाते ही संगकारा की बराबरी पर आ सकते हैं. जबकि, संगकारा से आगे निकलने के लिए उन्हें दो शतकों की जरूरत है.
सचिन का 12 शतकों का रिकॉर्ड भी खतरे में
एक साल (कैलेंडर ईयर) में सबसे अधिक शतक लगाने का रिकॉर्ड सचिन तेंदुलकर के नाम है. उन्होंने 1998 में 12 शतक लगाए थे. विराट कोहली और रिकी पोंटिंग 11-11 शतकों के साथ इस मामले में दूसरे नंबर पर हैं. विराट ने 2017 में और रिकी पोंटिंग ने 2003 में ऐसा किया था. विराट पिछले साल एक शतक से सचिन का रिकॉर्ड बराबर करने से चूक गए थे. उनके पास एक बार फिर सचिन की बराबरी पर आने या उनका रिकॉर्ड तोड़ने का मौका है. वे इस साल 10 शतक लगा चुके हैं.

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
loading...
E-Paper