एसपी से बोली युवती, साहब- न्याय के बजाय अस्मत लूटना चाहता है मेरी सीओ

कासगंज: उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री के गृह जनपद गोरखपुर की युवती ने कासगंज सदर के सीओ अजय कुमार सिंह पर गंभीर आरोप लगाया है। युवती ने सीओ आवास में ही बंदी बनाकर दुराचार की कोशिश करने का आरोप लगाया है। युवती ने विरोध करने पर मारने-पीटने और दरवाजा तोड़कर गैस सिलेंडर का पाइप लगाकर जान से मारने की कोशिश का भी गंभीर आरोप लगाया है। युवती का कहना है कि सीओ उसे पत्नी बनाकर रखते थे।

युवती ने सीओ पर भगवान को साक्षी मानकर सीओ आवास में ही मांग में सिंदूर भरकर मंगल सूत्र पहनाकर शादी करने का आरोप लगाया है। पीड़ित युवती ने कहा, “हमारे दहेज उत्पीड़न के केस में ये सीओ देवरिया में जांच अधिकारी थे और इन्होंने हम पर दया करके कि हम गरीब लड़की को सहारा देंगे और प्यार का झांसा देकर केस में मदद करने की कहकर इन्होंने मेरे साथ ऐसा किया है। सीओ 1 और 2 मई के अवकाश पर हैं।”

मीडिया रिपोर्ट का संज्ञान लेकर कासगंज एसपी के निर्देश पर क्षेत्राधिकारी यातायात कासगंज वीएस वीर कुमार और कासगंज की महिला थाना अध्यक्ष ने सीओ आवास पर छापा मारा। छापे के दौरान युवती सीओ के आवास पर ही मिली। युवती ने महिला थाना अध्यक्ष को बयान दिया कि सीओ सिटी के अवकाश के बाद वापस आने पर मेरे द्वारा अग्रिम कार्यवाही की जाएगी। इस पूरे मामले में महिला थाना अध्यक्ष कुछ भी कहने से बचती नजर आयी। एसपी कासगंज ने मामले की जांच के आदेश दिए हैं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper