ओम प्रकाश राजभर ने उत्तर भारतीयों पर हमले के लिए केंद्र और गुजरात सरकार से मांगा इस्तीफा

लखनऊ ब्यूरो । उत्तर प्रदेश सरकार के कैबिनेट मंत्री और सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर ने गुरुवार को एक बार फिर भाजपा पर करारा हमला बोला। उन्होंने कहा कि गुजरात में उत्तर भारतीयों पर हो रहे हमले की जिम्मेदारी लेकर केंद्र और गुजरात सरकार को इस्तीफ़ा दे देना चाहिये।

ओमप्रकाश राजभर उरई भागीदारी सम्मेलन को संबोधित करने आए थे । इसके पहले पत्रकारों से वार्ता करते हुए उन्होंने कहा कि राम मंदिर का मुद्दा भाजपा द्वारा चुनाव के समय ही गरमाया जाता है जबकि उसकी सरकार में भी रामलला तिरपाल के नीचे पड़े रहे और भाजपा के नेता एसी कारों और प्लेन में घूमते रहे। हालांकि उन्होंने कहा कि अगर मंदिर बनाने के लिए अध्यादेश लाने की कोशिश की गई तो वे विरोध करेंगे।

उन्होंने कहा कि महंगाई के मुद्दे पर जब भाजपा सरकार में नहीं थी उस समय इसके नेता विरोध के लिए अनोखे हथकंडे अपनाते थे लेकिन सरकार आने के बाद जनता को इससे राहत देने के लिए वे कोई कदम नहीं उठा रहे। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी अपनों की भी सगी नहीं है। यह पार्टी खून पसीना बहाने वाले कार्यकर्ताओं को चुनाव में टिकट देने की बजाय आयातित लोगों को मौका देती है जिन पर भ्रष्टाचार के संगीन इल्जाम भी अनदेखे कर दिये जाते हैं। इसीलिये भाजपा राज में भ्रष्टाचार पर अंकुश नहीं हो पा रहा है।

ओम प्रकाश राजभर ने तब भाजपा की दुखती राग को सबसे ज्यादा कुरेदा जब उन्होंने खुलेआम सिपाहियों के असंतोष का भी समर्थन कर डाला। उन्होंने कहा कि सिपाहियों का विरोध जायज है । उनके साथ अन्याय होता है। उन्हें 8 घंटे की ड्यूटी का पैसा दिया जाता है जबकि 24 घंटे काम लिया जाता है।

ओम प्रकाश राजभर ने उरई के जेल रोड स्थित राजपाल रिसॉर्ट में आयोजित भागीदारी सम्मेलन को संबोधित करते हुए संसद में महिलाओं को 33 प्रतिशत आरक्षण, सरकारी स्कूलों की दशा सुधारने और उत्तर प्रदेश में भी शराब बंदी लागू करने की मांग की। उन्होंने कहा कि मंडल आयोग की रिपोर्ट और अनुसूचित जाति और जनजातियों के आरक्षण का लाभ चंद मजबूत जातियां उठा रहीं हैं जिससे सत्ता और प्रशासन में जिसकी जितनी संख्या भारी उसकी उतनी भागीदारी का नारा सफल नहीं हो पा रहा है।

सभा की अध्यक्षता शिव सेवक विश्वकर्मा ने की। भूपेश बाथम, जटा शंकर प्रजापति, दीपक झा, हरिओम प्रजापति, त्रिलोकी प्रजापति, रोहित पांचाल, उमेश प्रजापति, महेंद्र प्रजापति, प्रवीण, पंकज , अमित, संदीप, संदीप, इम्तियाज़, आबिद, आशु, इमरान, शीबू आदि मुख्य रूप से उपस्थित रहे।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper