…और ‘विराट’ होंगे कोहली

टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने जब से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट की दुनिया में अपना डेब्यू किया है, तभी से अपने बल्ले से रनों की झड़ी लगा दी है। विराट ने क्रिकेट के कई शानदार रिकॉर्ड बहुत ही कम समय में अपने नाम कर लिए हैं। आइए जानते हैं इतने कम समय में अपार सफलता पाने वाले विराट कोहली के ग्रहों की चाल के बारे में।

विराट कोहली का जन्म 5 नवम्बर 1988 को हुआ था। जन्मांक 5 और भाग्यांक 6 है। ये अंक क्रमश: बुध और शुक्र के हैं। उनकी कुंडली में इन दोनों ही ग्रहों का राशि परिवर्तन नामक महाभाग्य योग्य है। दोनों ग्रह लग्न से कर्म और लाभ भाव के स्वामी हैं। कुंडली में लाभस्थ बुधादित्य योग है। ऐसे में उन्हें बुध-शुक्र की विशेष कृपा प्राप्त है। साथ इन दोनों ग्रहों के मित्र शनि कुंडली में लग्नस्थ हैं। लग्नेश स्वयं गुरु हैं। गुरु उन्हें खेल का विशेष एटिट्यूड देते हैं, अलग बनाते हैं। जहां तक विराट कोहली की कुंडली का सवाल है, तो उसका लग्न धनु है, कन्या राशि है और चंद्रमा केंद्र में है। इससे व्यक्ति की मानसिक स्थिति बहुत मजबूत हो जाती है। विराट कोहली के लग्न में शनि विद्यमान है। इससे कोहली को जूझते रहने और ज्यादा परिश्रम करने की ताकत मिलती है।

उनकी कुंडली के तीसरे खाने में राहु और नवम स्थान पर केतु विद्यमान है। आपको बता दें, तीसरा भाव राहु का बहुत ही प्रिय होता है। इससे व्यक्ति को अच्छे निर्णय लेने की क्षमता होती है और जीवन में सफलता मिलती है। कोहली की कुंडली के चौथे खाने में मंगल विद्यमान है और यह मंगल व्यक्ति को आकर्षक और फेमस बनाता है। छठे खाने में ब्रहस्पति मौजूद है, जिसमें व्यक्ति को राजसुख मिलता है। छठे खाने में ब्रहस्पति होने से व्यक्ति सफलता के सर्वोच्च शिखर तक पहुंचता है। दसवें खाने में शुक्र चंद्रमा विद्यमान है। इसमें इमोशनल पार्ट और रोमांटिजम वाला भाग होता है। 11वें खाने में सूर्य और बुध मौजूद है। बुध को सफलता में एक बहुत बड़ा ग्रह माना जाता है। कोहली को यह ग्रह अच्छी तकनीक से बल्लेबाजी करने में मदद करता है।

कोहली की कुंडली के वायु भाग में मंगल और राहु विद्यमान है और अग्नि संतुलित स्थिति में है। विराट के बल्ले से आने वाले समय में सफलताओं की बारिश होगी। 2006 यानी इस शताब्दी के छठवें वर्ष से प्रथम श्रेणी क्रिकेट की शुरुआत की। अंक के इसी क्रम को समझा जाए, तो विराट इंटरनेशनल क्रिकेट में कम से कम 2024 तक खेलते रहेंगे। ग्रहों के मुताबिक, अभी विराट कोहली के सितारे और बुलंद होंगे। अगला विश्व कप भी उनके ही नेतृत्व में भारत आने की पूरी संभावना है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------ ------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper