कनिका कपूर कितनों के संपर्क में आईं पता कर रहीं 100 से अधिक टीमें, हुई 22 हजार की स्कैनिंग

लखनऊ: बेबी डॉल गाने से मशहूर हुई बॉलिवुड सिंगर कनिका कपूर ने जो करतूत की उसने कई लोगों को कोरोना से संक्रमित होने की संभावना बढ़ गई है। कनिका के पॉजिटिव पाए जाने के बाद उनके संपर्क में आए लोगों की पहचान के लिए स्वास्थ्य विभाग कोई कसर नहीं छोड़ रहा है। स्थानीय प्रशासन और यूपी के स्वास्थ्य विभाग ने 100 से अधिक टीमें बनाई हैं। लगभग 1।000 सदस्यों वाली इन टीमों का काम है कि वे यह पता लगाएं कि 11 मार्च के बाद कनिका किसके-किसके संपर्क में आई थीं। टीमें उन सभी लोगों तक पहुंचने की कोशिश कर रही हैं। जो उन सामाजिक समारोहों में उपस्थित थे। जिनमें कनिका भी शामिल हुई थीं। महानगर में कनिका के घर के आसपास रहने वाले लोगों या कनिका के स्टे के दौरान वहां आए हर व्यक्ति की तलाश की जा रही है। एडिशनल डिस्ट्रिक्ट मैजिस्ट्रेट अमर पाल सिंह ने कहा। ‘केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के निर्देशों के अनुरूप हम लगातार काम कर रहे हैं। जो भी स्कैनिंग में बाधा डालेगा या टीम का सहयोग नहीं करेगा। उसके खिलाफ पुलिस कार्रवाई की जाएगी।’

शनिवार को टीम ने कनिका के घर के आसपास रहने वाले लगभग 22 हजार लोगों की स्कैनिंग की। सिंह ने कहा। ‘पार्टी आयोजित करने वाले आदिल अहमद और अदीश सेठ के घर को सेनेटाइज कर दिया गया है। वहां रहने वाले लोगों से कहा गया है कि वे अगले 48 घंटे तक ना तो बाहर निकलें और न ही किसी को अंदर आने दें।’ विशेषज्ञों की एक अन्य टीम उस फाइवस्टार होटल के वीडियो फुटेज और सीसीटीवी रिकॉर्ड्स खंगाल कर रही है। जहां कनिका 14 से 16 मार्च के बीच रुकी थीं। जांच कर रहे एक अधिकारी ने कहा। ‘ऐसी खबरें हैं कि उन्होंने होटल के बुफे में खाना खाया था और लॉबी में कई मेहमानों से मिली थीं। वह उस समय वहां रह रही थी जब साउथ अफ्रीका की क्रिकेट टीम वनडे मैच के लिए वहां ठहरी थी। ऐसी जानकारी है कि कनिका ने होटल में आयोजित एक न्यूज चैनल के वार्षिक सम्मेलन में भी हिस्सा लिया था। ऐसे में सीसीटीवी फुटेज को स्कैन करने कनिका के संपर्क में आने वालों की सूची बनाना जरूरी है।’

लखनऊ के मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. नरेंद्र अग्रवाल ने कहा ‘कनिका ने कोविड-19 का संदिग्ध होने के बावजूद होम क्वारंटाइन होने के निर्देशों का पालन नहीं किया। घर पर रहने के बजाय। वह सामाजिक समारोहों में शामिल हुईं। उन्होंने अपनी लापरवाही से कई लोगों को जोखिम में डाल दिया है।’ आपको बता दें कि अग्रवाल ने ही कनिका के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई थी। कानपुर में जहां कनिका अपने नाना से मिलने गई थीं। जिलाधिकारी ने उस अपार्टमेंट को भी सील करने का आदेश दिया। पुलिस को यह सुनिश्चित करने के लिए कहा गया है कि अगले 48 घंटों के लिए 35 से अधिक घरों में कोई भी प्रवेश न करें और ना ही वहां से बाहर निकले। लखनऊ के पुलिस कमिश्नर सुजीत पांडे ने कहा। ‘हमने मुंबई के पुलिस कमिश्नर को भी लिखा है कि वे इस बात का पता लगाएं कि इंटरनेशनल फ्लाइट से लैंड करने के बाद एयरपोर्ट पर उनकी ठीक से स्क्रीनिंग हुई थी या नहीं। साथ की कनिका जिन जगहों पर वह रुकी थीं। उनकी डिटेल्स भी मांगी गई हैं।’

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper