कभी बकरियां चराती थीं, आज हैं फ्रांस की शिक्षामंत्री, जानें नजत बेल्कासम की दिलचस्प कहानी

फ्रांस की एजुकेशन मिनिस्टर नजत बेल्कासम न केवल पहली मुस्लिम, बल्कि पहली महिला हैं जो फ्रांस की एजुकेशन मिनिस्टर हैं. नजत बेहद ही गरीब परिवार से ताल्लुक रखती हैं और तमाम मुश्किलों का सामना करते हुए इस मुकाम पर पहुंची हैं. आइए जानते हैं एक गरीब परिवार में पैदा होकर फ्रांस की एजुकेशन मिनिस्टर बनने तक की नजत की कहानी.

नजत ने छोटी उम्र में संघर्ष और कड़ी मेहनत का अर्थ बखूबी समझ लिया था, क्योंकि जब वो चार साल की थी तब उन्हें पास के कुएं से पानी भरकर लाने के लिए मजबूर होना पड़ा था.

मोरक्को के कट्टरपंथी मुस्लिम परिवार में 1977 में जन्मी नजत का परिवार बकरियों का दूध बेचकर अपना घर चलाता था.

नजत का परिवार जब 1982 में जब फ्रांस आया तब उनके पास यहां की सिटिजनशिप भी नहीं थी. नजत को उस वक्त फ्रेंच नहीं आती थी ऐसे में उनका फ्रांस में रह पाना काफी मुश्किल था.

फ्रांस के बिन चिकार गांव में रहने वाले नजत के पिता मजदूरी करते थे और कमाई के लिए परिवार के बाकी सदस्य भेड़े चराते थे.

इतनी बाधाओं के बाद भी यहां तक पहुंच पाना इतना आसान नहीं था, लेकिन कहते हैं ना असली हीरो कभी हार नहीं मानता, वैसा ही कुछ नजत के साथ भी था. उन्होंने कभी हार नहीं मानी.

उन्होंने खुद को पढ़ाई के लिए समर्पित किया और आखिरकार कॉलेज में उन्होंने फर्स्ट इयर खत्म होने तक उन्होंने फ्रैंच में महारात हासिल कर ली.

अपनी लगन के दम पर नजत ने 2002 में पैरिस इंस्टिट्यूट ऑफ पॉलिटिकल स्टडीज से स्नातक की डिग्री हासिल की. इसके बाद नजम सोशलिस्ट पार्टी में शामिल हो गईं.

नागरिकों को घर और उनके अधिकार दिलाने की मुहिम में नजम ने बढ़चढ़ कर हिस्सा लिया.

तमाम उचार-चढ़ाव के बीच नजत 2012 में महिला अधिकार मंत्री बनीं, जिसके बाद फ्रांस के राष्ट्रपति फ्रांसुवा ओलांद ने उन्हें सरकार का प्रवक्ता नियुक्त कर दिया.

नजम की कड़ी मेहनत और कैबिनेट में बड़े फेरबदल के चलते जहां कई मंत्रियों से उनके मंत्रालय छीन लिए गए थी, वहीं नजम का प्रमोशन हुआ और उन्हें शिक्षा मंत्री बनाया गया.

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper