कर्नाटक: सुप्रीम कोर्ट का आदेश, शाम 6 बजे तक विधानसभा अध्यक्ष के सामने पेश हों बागी विधायक

नई दिल्ली: उच्चतम न्यायालय ने गुरुवार को कर्नाटक के 10 विधायकों को विधानसभा अध्यक्ष रमेश कुमार के समक्ष शाम छह बजे तक पेश हाेने का आदेश दिया। मामले की अगली सुनवाई शुक्रवार को होगी। कोर्ट ने विधायकों को स्पीकर से मिलकर इस्तीफे का कारण बताने के लिए कहा है, वहीं स्पीकर को भी आदेश दिया है कि वह आज ही विधायकों के इस्तीफे पर फैसला लें।

इसी के साथ कोर्ट ने कर्नाटक के डीजीपी को सभी बागी विधायकों को सुरक्षा देने का आदेश दिया है। मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली पीठ ने विधानसभा अध्यक्ष से विधायकों से मुलाकात के बाद ही इस बारे में निर्णय लेने को भी कहा है।

बागी विधायकों के अध्यक्ष से मुलाकात करने के लिए विमान से मुंबई से बेंगलुरु जाने की संभावना है। विधायकों ने अपनी याचिका में आरोप लगाया कि अध्यक्ष ने उनसे एक साथ मुलाकात करने से इंकार कर दिया था। शीर्ष अदालत ने कर्नाटक के पुलिस महानिदेशक को सभी बागी विधायकों की सुरक्षा सुनिश्चित करने का आदेश दिया है। मामले की अगली सुनवाई 12 जुलाई तक के लिए स्थगित कर दी गयी है।

पीठ ने विधानसभा अध्यक्ष से शीर्ष अदालत को शुक्रवार को सुनवाई के दौरान इस मामले की प्रगति से अवगत कराने का भी आग्रह किया है। इस बीच बेंगलुरु में महत्वपूर्ण गतिविधियां जारी है तथा मुख्यमंत्री एच डी कुमारस्वामी की अध्यक्षता में मंत्रिमंडल की महत्वपूर्ण बैठक होने वाली है। बेंगलुरु के पुलिस आयुक्त आलोक कुमार ने विधान सौध के दो किलोमीटर के दायरे में निषेधाज्ञा लागू कर दी है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper