कही आपको तो नहीं है ये समस्या, यदि है तो इस उपाय से होंगी ख़त्म

बवासीर पुरुषो की एक गंभीर बीमारी है इसको मेडिकल की भाषा में पाइल्स कहा जाता है। बवासीर से पीड़ित मरीज के गूदा द्वार में मस्से हो जाते हैं जिनसे लगातार खून बहता है दर्द होने के कारण मरीज काफी कमजोर और दुखी रहता है। बवासीर दो तरह का होता है – पहला अंदर की बवासीर और बाहर की बवासीर। बाहरी बवासीर होने पर मस्से सूजकर मोठे हो जाते हैं जिससे दर्द, जलन, खुजली भी होने लगती है। बवासीर या पाइल्स एक ऐसी बीमारी है जिसमें एनस के अंदर और बाहरी हिस्से की शिराओं में सूजन आ जाती है।

इसकी वजह से गुदा के अंदरूनी हिस्से में या बाहर के हिस्से में कुछ मस्से जैसे बन जाते हैं, जिनमें से कई बार खून निकलता है और दर्द भी होता है। कभी-कभी जोर लगाने पर ये मस्से बाहर की ओर आ जाते है। अगर परिवार में किसी को ऐसी समस्या रही है तो आगे की जेनरेशन में इसके पाए जाने की आशंका बनी रहती है।

कहा जाता है की कब्ज पाइल्स की सबसे बड़ी वजह होती है। कब्ज होने की वजह से कई बार मल त्याग करते समय जोर लगाना पड़ता है और इसकी वजह से पाइल्स की शिकायत हो जाती है। ऐसे लोग जिनका काम बहुत ज्यादा देर तक खड़े रहने का होता है, उन्हें पाइल्स की समस्या हो सकती है। गुदा मैथुन करने से भी पाइल्स की समस्या हो सकती है।

मोटापा इसकी एक और अहम वजह है। कई बार प्रेग्नेंसी के दौरान भी पाइल्स की समस्या हो सकती है। नॉर्मल डिलिवरी के बाद भी पाइल्स की समस्या देखने को मिलती है| किसी भी  व्यक्ति को  बवासीर हो जाती है तो वह शर्म से इस बिमारी का नाम तक नहीं लेता है| बवासीर के बारे में काहा जाता है कि यह बीमारी दो तरह की होती हैं एक तो होती है अंदरूनी मस्से जिसमे आपको खून नहीं आता है और मस्से अन्दर ही रहते है |

दूसरा है बाहरी मस्से जिसमे मस्से बाहर लटकने लगते है और सुबह के समय शौच करते समय दर्द और ब्लीडिंग होता है, यह बीमारी जिसे भी मनुष्य को होती हैं उसे अंदर से खून की कमी हो जाती हैं जिसके कारण इंसान को कमजोरी महसूस होती हैं| आज हम आपको बतायगे  इस बिमारी के कुछ घरेलु उपाय बताने जे रहे हेई जिसे करने से आपको इस बिमारी से निजत मिला जाएगा|

आइये जानते हैं पाइल्स के घरेलु उपाय

नारियल

सबसे पहले आप को एक नारियल लेना है और फिर उसकी जटा को निकल ले फिर उसे पूरी तरह से जला दें  जब वह पूरी तरह से भस्म बन जायें तो उसे छान कर रख लें फिर रात को ही गाय के 2 किलो दूध का दही जमा दीजिये  पिर सुबह -सुबह खाली पेट क कटोरी में दही ले लीजिये और उसमे 5 ग्राम नारियल की भष्म मिला लीजिये और इसको खा लीजिये हो सकता है आपको इसका स्वाद अच्छा न लगे लेकिन अगर आपको बवासीर को जड़ से ख़त्म करना है तो ऐसा करना ही पड़ेगा|

इसका सेवन दिन में दो बार करना है एक बार दोपहर में और एक बार रात को सोने से पहले आप को बता दें कि आपको दिन में जब भी भूख लगे आपको सिर्फ दही खाना है इसके अलावा और कुछ भी नहीं खाना है |इसके अलावा आपको हर रोज ज्यादा से ज्यादा छाछ व दही खाना है और हो सके तो  मिर्च मसालों से बिल्कुल दूर रहें|

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper