किन्नरों की जबरदस्ती में नवजात ने तोड़ा दम, इलाके में दहशत

झारग्राम: पश्चिम बंगाल स्थित झारग्राम में उस समय हड़कंप मच गया जब बधाई लेने आए किन्नरों द्वारा एक नवजात बच्चे की मौत हो गई। यह उस समय हुआ जब किन्नरों के एक समुह ने मां की गोद से उसके बच्चे को खींच लिया।

मामले संबंधित जानकारी देते हुए स्थानिय लोगों ने बताया कि बिन्नर थानान्तर्गत उत्तर शिल्डा निवासी चंदन खिलाड़ी के जुड़वा बच्चे पैदा हुए। इसमें एक बच्चे को हृदय संबंधी दिक्कत होने के कारण वह अस्पताल में भर्ती था। जन्म के 20 दिन बाद जब अस्पताल से रिलीज होने के बाद घर पहुंचा, तो खबर पाकर तीन किन्नर भी उनके घर पहुंच गए। उन्होंने 11,000 रुपए मांगे और इनकार करने पर परिजनों को गालियां देने लगें।

पुलिस ने बताया कि किन्नरों ने मां की गोद से बच्चे को छीन लिया और उसे लेकर नाचने लगे। फिर परिवार 2,000 रुपए देने पर राजी हो गया। इस दौरान बीमार बच्चे को फिर दिक्कत हुई तो उसे तुरंत अस्पताल ले जाया गया, जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया।

यह खबर फैलते ही पड़ोसियों ने किन्नरों को घेर लिया, ताकि वे भाग ना पाएं। ग्रामीणों ने तीनों किन्नरों को पकड़ कर पुलिस के हवाले किया। बच्चे की मौत के बाद इलाके में शोक का माहौल है। पुलिस घटना की जांच कर रही है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper