किसी भी शादीशुदा महिला को वश में करने का अचूक उपाय

दोस्तों आज मैं आपको किसी भी शादीशुदा महिला को वश में करने का एक अचूक उपाय बताने वाला हूं। अगर आप किसी शादीशुदा औरत को चाहते हैं। और उससे अपने दिल की बात नहीं कह पा रहे हैं। आप चाहते हैं कि वह औरत खुद आकर अपने प्यार का इजहार करें तो यह विधि आपकी मनोकामना पूरी कर सकती है। चलिए बताते हैं आपको इस विधि के बारे में।

एक बार वश में होने के बाद स्त्री 389 दिनों तक आपके वश में रहती है। और उस वशीकरण को खत्म नहीं किया जा सकता है तो इसे बहुत ही सोच समझकर करें। इसके लिए आपको कुछ सामग्री की आवश्यकता पड़ेगी। जैसे कि उस औरत की फोटो, लाल सिंदूर, कपूर की दो टिक्की, अपना खुद का इस्तेमाल क्या हुआ कोई भी कपड़ा, केसर, बासमती चावल के दाने और चीनी मिला हुआ पानी।

अब बताते हैं इसकी विधि के बारे में पुरुष जिस शादीशुदा स्त्री को मोहित करना चाहते हैं। उस स्त्री की फोटो के ऊपर अच्छे से सिंदूर लगा दे। फिर कपूर की टिक्की केसर और चावल के दाने अपने कपड़े में डालकर बांध लें और रात को सारा सामान अपने तकिए के पास रख कर सो जाएं।

फिर सुबह उठकर चीनी वाला पानी पी के नीचे जमीन पर बैठ जाएं। और रात वाला सभी सामान जमीन पर रख ले और फिर इस मंत्र का 21 बार जाप करें।

“हरिम क्रीम अमुकम आकर्षय (स्त्री का नाम) वषयं कुरु कुरु स्वाहा”

और मन ही मन उस स्त्री को अपनी ओर बुलाए। जाप खत्म होने के बाद किसी सुनसान जगह पर जा कर यह सारा सामान जला दें। या फिर दफना दें यह विधि आप को कम से कम पांच शुक्रवार तक करनी है।

इस विधि के साथ-साथ आपको कुछ सावधानियां बरतनी पड़ेगी। जैसे कि विधि खत्म होने के बाद उस औरत से खुद से मैसेज या फ़ोन पर बात ना करें। वह खुद ही आपके पास आएगी इस विधि को एक से ज्यादा औरत पर ना करें। इस विधि को शुक्रवार से ही शुरू करें इसे किसी गलत भाव से इस्तेमाल ना करें। नहीं तो यह उल्टा असर भी दिखा सकती है तो यह है दोस्तों किसी भी शादी शुदा महिला को वश में करने का अचूक वशीकरण।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper