कुम्भ के लिए 12 फरवरी से तीन फेरों में चलेगी स्पेशल ट्रेन

लखनऊ ब्यूरो। उत्तर रेलवे प्रशासन प्रयागराज के कुम्भ मेला के लिए 12 से 27 फरवरी के मध्य तीन फेरों में एक स्पेशल ट्रेन चलाएगा। इस ट्रेन के चलने से यात्रियों को मेला आने-जाने में सहूलियत मिलेगी।

रेलवे के मुख्य जनसम्पर्क अधिकारी (सीपीआरओ) ने मंगलवार को बताया कि प्रयागराज के कुम्भ मेला के लिए 12 फरवरी से 27 फरवरी के मध्य एक स्पेशल ट्रेन चलाई जाएगी। उन्होंने बताया कि भगत की कोठी और पं. दीनदयाल उपाध्याय स्टेशनों के बीच यह ट्रेन तीन फेरों में चलेगी। ट्रेन भगत की कोठी से 12 फरवरी सुबह सात बजे चलकर अगले दिन बुधवार को लखनऊ के चारबाग रेलवे पर 4.10 बजे पहुंचेगी। यहां से 4.20 बजे चलकर सुबह 11.20 बजे पं. दीन दयाल उपाध्याय स्टेशन पहुंचेगी।

भगत की कोठी से ट्रेन 12 फरवरी, 19 और 26 फरवरी को चलेगी। वापसी में पं. दीन दयाल उपाध्याय स्टेशन से ट्रेन बुधवार दोपहर 3.30 बजे चलेगी और रात 11.05 बजे से 11.30 बजे के बीच निकलकर अगले दिन रात 10 बजे भगत की कोठी पहुंचेगी। पं. दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन से ट्रेन 13 फरवरी, 20 और 27 फरवरी को चलेगी। ट्रेन का ठहराव रतनगढ़, रेवाड़ी, लखनऊ और इलाहाबाद स्टेशनों पर होगा। ट्रेन में यात्रियों की सुविधा के लिए एक सेकंड एसी, दो थर्ड एसी, छह स्लीपर, छह जनरल और दो एसएलआर समेत कुल 17 कोच होंगे।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper