कुम्भ में उमड़ा श्रद्धालुओं का रेला, मौनी अमावस्या के मद्देनजर स्कूल-कालेज चार तक बंद

प्रयागराज ब्यूरो। तीर्थराज प्रयाग में चल रहे कुम्भ मेले का दूसरा शाही स्नान और तीसरा प्रमुख स्नानपर्व, मौनी अमावस्या चार फरवरी को है, लेकिन तीन दिन पहले ही मेला क्षेत्र में श्रद्धालुओं का रेला उमड़ पड़ा है। मेला प्रशासन ने मौनी अमावस्या के अवसर पर तीन करोड़ से अधिक श्रद्धालुओं के आने का अनुमान लगाया है।

इस बीच प्रयागराज जिला प्रशासन ने मौनी अमावस्या के मद्देनजर जिले के सभी विभागों के कार्यालयों और स्कूल-कालेजों में दो से चार फरवरी तक अवकाश घोषित कर दिया है। जिलाधिकारी प्रयागराज सुहास एलवाई ने इस संबंध में आज एक आदेश भी जारी कर दिया।
मेला क्षेत्र में बढ़ रही भीड़ को देखते हुए प्रयागराज मेला प्राधिकरण के आईसीसीसी सभागार में मौनी अमावस्या स्नान पर्व पर भीड़ एवं यातायात प्रबन्धन की व्यवस्था को चुस्त-दुरूस्त सुरक्षित बनायें रखने के सम्बन्ध में शुक्रवार को एक आवश्यक बैठक की गयी। इसमें प्रयागराज जिला प्रशासन, कुम्भ मेला प्रशासन एवं रेलवे, रोडवेज और अन्य सम्बन्धित विभागों के अधिकाकरियों ने भाग लिया।

बैठक में मण्डलायुक्त डॉ. आशीष कुमार गोयल ने सभी सम्बन्धित अधिकारियों से मौनी अमावस्या स्नान पर्व पर तीर्थयात्रियों को स्नान कराकर सकुशल वापसी हेतु बेहतर यातायात व्यवस्था बनाये रखने हेतु कहा। उन्होंने यात्रियों की सुविधा के लिए विभिन्न स्थानों पर अधिक मात्रा मे साइनेज लगाये जाने का निर्देश सम्बन्धित विभागों के अधिकारियों को दिये है। उन्होंने यह भी निर्देश दिये हैं कि मेला में आने वाले यात्रियों को उनके गंतव्य स्थान तक जाने के लिए ट्रेनों के संचालन एवं दिशा के बारे में निरन्तर एलाउन्स करते रहें, जिससे कि तीर्थयात्रियों को कहां से और किस दिशा से जाना है, इस सम्बन्ध में जानकारी प्राप्त होती रहें।

मण्डलायुक्त ने रोडवेज के अधिकारियों को रेलवे स्टेशन के बाहर पर्याप्त संख्या में बसों की भी व्यवस्था सुनिश्चित बनाये रखने के भी निर्देश दिये, जिससे कि तीर्थयात्रीगण बसों से भी अपने गंतव्य स्थल पर जा सके। उन्होंने भीड़ प्रबन्धन के लिए स्टेशनों के पास पड़ाव व्यवस्था को भी क्रियाशील बनाये रखने का निर्देश दिया है जिससे कि यात्रियों को वहां पर व्यवस्थित ढंग से पड़ाव स्थल पर रोकते हुए धीरे-धीरे उन्हें उनके गंतव्य तक पहुंचाया जा सके।

उन्होंने पड़ाव स्थल पर सभी मूलभूत व्यवस्थायें सुनिश्चित किये जाने के निर्देश भी दिये है। मण्डलायुक्त ने सभी सम्बन्धित विभागों के वरिष्ठ अधिकारियों को अनिवार्य रूप से शनिवार को स्थलीय निरीक्षण करते हुए उनके विभाग से सम्बन्धित सभी आवश्यक व्यवस्थायें सुनिश्चित किये जाने का निर्देश दिया है। उन्होंने कन्ट्रोल रूम में अनुभवी एवं जानकार अधिकारियों की तैनाती किये जाने के लिए कहा है, जिससे कि वे ट्रेनों, बसों के संचालन सहित अन्य प्रकार की सूचनाओँ के बारें में निरन्तर रूप से सही जानकारी प्रदान करते रहें।

मण्डलायुक्त ने रेलवे विभाग के अधिकारियों को रेलवे अस्पताल को निरन्तर एलर्ट रहने के लिए भी कहा है। उन्होंने यह भी कहा कि अस्पतालों तथा अन्य निर्धारित स्थलों पर पर्याप्त एम्बुलेंस की व्यवस्था रहें। उन्होंने यह भी कहा है कि एम्बुलेंस के परिचालकों को शहर के अन्य अस्पतालों में जाने के रास्ते के बारे में अच्छे ढंग से जानकारी रहें। स्टेशनों तथा पड़ाव स्थलों पर पर्याप्त सुरक्षा बल की व्यवस्था किये जाये।

इस अवसर पर उत्तर मध्य रेलवे (एनसीआर) के महाप्रबन्धक राजीव चौधरी ने ट्रेनों के संचालन एवं रेलवे स्टेशनों पर भीड़ प्रबन्धन के बारे में विस्तार से जानकारी दी।
बैठक में अपर पुलिस महानिदेशक एसएन साबत, जिलाधिकारी प्रयागराज सुहास एलवाई, डीआईजी मेला केपी सिंह, मेलाधिकारी विजय किरन आनन्द सहित रेलवे, आरपीएफ, रोडवेज एवं अन्य सम्बन्धित विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।


गौरतलब है कि प्रथम शाही स्नान के साथ 15 जनवरी को कुम्भ मेले का आगाज हुआ था। अब कुम्भ का दूसरा शाही शाही स्नान और तीसरा प्रमुख स्नानपर्व मौनी अमावस्या चार फरवरी को है। ऐसे में कुम्भ के लिए किए गए भीड़ नियंत्रण के इंतजामों की असल परीक्षा इसी स्नान पर्व पर होनी है, क्योंकि इस अवसर पर मेला क्षेत्र में अमूमन सबसे ज्यादा भीड़ जुटती है। ऐसे में अफसर भीड़ नियंत्रण के इंतजामों को नए सिरे से चाक-चैबंद करने में जुटे हैं।

दरअसल वर्ष 2013 के कुम्भ में इसी स्नान पर्व पर रेलवे जंक्शन पर भगदड़ हुई थी, जिसमें कई लोगों की जान चली गयी थी। ऐसे में मेला प्रशासन के साथ रेलवे विभाग भी इस बार कुछ ज्यादा ही चौकन्ना है। रेलवे स्टेशन पर भी मौनी अमावस्या के लिए वन-वे ट्रैफिक प्लान, यात्री आश्रयों में भीड़ प्रबंधन, होल्डिंग एरिया में यात्रियों को रोकने आदि के पुख्ता इंतजाम किये गये हैं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper