केजरीवाल का बड़ा एलान, महिलाओं को मुफ्त यात्रा की मिली सौगात

नई दिल्ली: आम आदमी पार्टी की सरकार के मुखिया अरविंद केजरीवाल ने 15 अगस्‍त को महिलाओं को बड़ा तोहफा दिया है। उन्‍होंने महिलाओं को डीटीसी (DTC) और क्‍लस्‍टर बसों में मुफ्त सफर की घोषणा की। महिलाएं मुफ्त सफर का लाभ 29 अक्‍टूबर से उठा सकती हैं।

बुधवार से ही सियासी गलियारे में चर्चा थी कि सीएम केजरीवाल 15 अगस्‍त को महिलाओं के लिए बड़ी घोषणा कर सकते हैं। आज छत्रसाल स्‍टेडियम में 73वें स्‍वतंत्रता दिवस के उपलक्ष्‍य के मौके पर उन्‍होंने यह बड़ा एलान किया है। उन्‍होंने कहा कि दिल्ली की सभी बहनों के लिए अपना फर्ज अदा कर रहा हूं और ऐसी घोषणा कर रहा हूं कि जिससे बहनों की सुरक्षा बढ़ेगी, सशक्तिकरण होगा और वे सपने हासिल करने के लिए मजबूत बनेंगीं।

दिल्ली की सभी बसों मेट्रो में यात्रा फ्री करने का ऐलान किया था। आज उसमें से पहली घोषणा 29 अक्टूबर को भाईदूज का दिन है। इस दिन से सभी बसों क्लस्टर और डीटीसी में महिलाओं के लिए सफर फ्री होगा।

बता दें कि कुछ दिनों से दिल्‍ली के मुखिया केजरीवाल लगातार जनता को एक से एक तोहफा दे रहे हैं। चुनाव के मद्देनजर कई विपक्षी पार्टियां उन पर हमलावर भी हैं। भाजपा के मनोज तिवारी ने इसे चुनावी एलान बताया था।

डीटीसी (DTC) और क्लस्टर बसों में महिलाओं को मुफ्त यात्रा की सौगात के लिए कैबिनेट मसौदा को विधि विभाग ने हरी झंडी दे दी है। बसों में महिलाओं की मुफ्त यात्रा पर सरकार को सालाना 300 करोड़ रुपये खर्च करना पड़ सकता है। दिल्ली सरकार ने 3 जून को बसों में महिलाओं को मुफ्त यात्रा की सौगात देने की घोषणा की थी। इस योजना के मुताबिक महिलाओं को बसों में पिंक कार्ड दिया जाएगा। इससे वह मुफ्त यात्रा कर सकेंगी।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper