केजरीवाल की बंपर जीत हुई तो ट्विटर पर घिर गए कुमार विश्वास, कोई बना रहा मीम तो किसी ने घर भेजी बरनोल

दिल्ली विधानसभा चुनाव में  आम आदमी पार्टी की शानदार जीत हुई है। मंगलवार को घोषित हुए चुनाव परिणाम में पार्टी ने बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए 63 सीटों पर जीत हासिल कर ली है। दिल्ली की सत्ता में आम आदमी पार्टी की हैट्रिक लगाने पर अरविंद केजरीवाल के लिए बधाइयों का तांता लगा है। वहीं लंबे समय तक पार्टी का बड़ा चेहरा रहे कवि डॉ. कुमार विश्वास पर तानों की बरसात हो रही है। कई ट्विटर यूजर्स कुमार विश्वास पर व्यंग्य कस रहे हैं। यहाँ तक कि आम आदमी पार्टी के कुछ समर्थक उन्हें बरनोल भेज रहे हैं।

दरअसल, एक जमाने में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के करीबी रहे मशहूर कवि कुमार विश्वास पिछले कुछ सालों से उन्हें पानी पी-पी कर कोस रहे हैं। यहां तक कि दिल्ली विधानसभा चुनाव में भी कुमार विश्वास ट्विटर पर अरविंद केजरीवाल के खिलाफ लगातार हमलावर रहे। पार्टी में दरकिनार किए जाने के बाद कुमार विश्वास अपने हर ट्वीट में उन्हें ‘आत्ममुग्ध बौना’ कहकर संबोधित करते रहे हैं।

पूरे कैम्पेन के दौरान कुमार विश्वास ने अरविंद केजरीवाल और आप का खुलकर विरोध किया। बुरे-भले वाले उनके कई ट्वीट कवि के हैंडल पर पढ़े जा सकते हैं। चुनाव वाले दिन यानि 8 फरवरी को भी कुमार विश्वास ने अरविंद केजरीवाल पर निशाना साधा था और ट्वीट कर कहा था, ‘पिछले 5 साल के कलंक धोने का समय है दिल्ली वालों। वोट की चोट से समाज, देश, आशाओं, सेना, मित्रता व भरोसे की हत्या करने वाले राजनैतिक एड्स आत्ममुग्ध बौनों के निकृष्ट मंसूबे ध्वस्त करने का समय है…निकलो घरों से, बताओ कि बना सकते हो तो अहंकारी शिशुपालों को मिटा भी सकते हो।’ हालांकि चुनाव नतीजे ‘आप’ के पक्ष में रहे हैं और कुमार की तरफ से अब तक इस पर कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है।

आज जब दिल्ली में आम आदमी पार्टी बड़े बहुमत के साथ एक बार फिर से सरकार बनाने जा रही है, तब सोशल मीडिया पर  कुमार सबके निशाने पर आ गए हैं। कुछ आप समर्थकों ने कुमार विश्वास के घर बरनोल भेजने की बात कही है। उन्होंने ट्विटर पर डिलीवरी ऑर्डर पोस्ट भी किया है। शुभ नाम के एक ट्विटर यूजर ने ऑर्डर का स्क्रीनशॉट पोस्ट करते हुए लिखा, “मलते रहो 5 साल, दिल्ली में तो केजरीवाल।”

वहीं कुछ लोग आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल से अपील कर रहे हैं कि वह अपने पुराने सहयोगियों जैसे डॉ. कुमार विश्वास, वरिष्ठ वकील प्रशांत भूषण, किसान नेता योगेन्द्र यादव और वरिष्ठ पत्रकार आशुतोष को पार्टी में वापस लाएं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper