केरला टूरिज़्म भारत के दस शहरों में टूरिज़्म ट्रेड मीट आयोजित करेगा

लखनऊ: घरेलू पर्यटकों की बढ़ती संख्या के साथ केरला टूरिज़्म बाढ़ोपरांत नए आक्रामक मार्केटिंग अभियान के साथ नई शुरुआत करने को तैयार है। इसके लिए भारत के दस शहरों में अनेक पार्टनरशिप मीट होंगी, जिनमें राज्य के पारंपरिक कलारूपों एवं पर्यटकों को आकर्षित करने वाले यहां के उत्पादों का प्रदर्शन होगा। 16 जुलाई को पटना में उल्लेखनीय भागीदारी के साथ, केरल पर्यटन अधिकारियों को अब लखनऊ में होने की खुशी है और आगे की साझेदारियों के लिए इंदौर, भोपाल, पुणे, मुंबई, नासिक, राजकोट, अहमदाबाद और सूरत में होने वाली बैठकों के लिए तत्पर हैं।

पर्यटन मंत्री, कडकंपल्ली सुरेंद्रन ने बताया कि ये मीट्स, आगामी ओनम के त्योहार के साथ शुरु हो रही हैं, जिनमें इन शहरों के पर्यटन कारोबार को केरला में पर्यटन उद्योग की 50 से ज्यादा कंपनियों के साथ बात करने का अवसर मिलेगा। उन्होंने कहा, ‘‘हमें हर शो में हरेक शहर से 60-70 खरीददारों के आने की उम्मीद है।’’ इस पार्टनरशिप मीट में 30 मिनट के लघु सांस्कृतिक कार्यक्रम, एक विज़्युअल स्टोरीटेलिंग की प्रस्तुति होगी, जिसमें केरला के विविध कलारूपों एवं यहां के ग्रामीण जीवन तथा लोककथाओं का प्रदर्शन होगा।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper