केशव प्रसाद मौर्य ने किया बसपा प्रमुख पर पलटवार

लखनऊ: भाजपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष व योगी सरकार में उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने बसपा की राष्ट्रीय अध्यक्ष सुश्री मायावती के सपा के साथ रहने व राज्यसभा चुनाव में सरकारी मशीनरी के दुरुपयोग के आरोपों पर पलटवार किया है। उन्होंने बसपा नेत्री पर समाजवादी पार्टी से गठबंधन करने को दलित समाज के साथ बड़ा धोखा करार दिया और कहा कि यह बाबा साहेब और कांशीराम के सपनों से भी धोखा है। देश का शोषित तबका, दलित और पिछड़े वर्ग के लोग निहित स्वार्थ में लिए गए मायावती के इस फैसले से दंग व हैरान हैं।

मौर्य ने कहा कि मायावती के सारे आरोप हार की बौखलाहट हैं।भाजपा मुख्यालय पर देर शाम बुलायी गयी पत्रकार वार्ता में श्री मौर्य ने कहा कि गेस्ट हाउस कांड में बहन जी पर जब जानलेवा हमला कर उनकी हत्या की कोशिश की गई थी तब भाजपा के वरिष्ठ नेताओं ने अपनी जान की परवाह किये बिना उनकी जान बचाई थी। अब बहनजी कम तजुब्रे वाले पूर्व सीएम व सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव को दोषी नहीं मानती। उन्होंने पूछा कि बसपा प्रमुख बतायें कि अखिलेश यादव भले ही उस समय राजनीति में नहीं थे पर गेस्ट हाउस कांड सपा के जिन गुंडों ने किया था, वह अब भी पार्टी में बने हुए हैं।

क्या बसपा का दलित कार्यकर्ता इस अपमान व अपराध को भूलकर सपाइयों का स्वागत करेगा, ऐसा नहीं लगता। गेस्ट हाउस कांड के बाद पार्टी संस्थापक कांशीराम ने सपा से गठबंधन हमेशा के लिए खत्म कर दिया था, अब मायावती ने ना सिर्फ दलित समाज को, बल्कि अपने समर्थकों और कांशीराम को भी धोखा दिया। उन्होंने कहा कि मायावती 23 सालों तक समाजवादियों को अराजक कहती रहीं, गुंडा बताती रहीं, और अब उनका नारा बदल गया है।. अब वे कह रही हैं कि गुंडे चढ़के हाथी पर, गोली मारेंगे छाती पर। रही बात भाजपा की तो जब बाबा साहब का लंदन स्थित आवास नीलाम हो रहा था तब प्रधानमंत्री मोदी ने घर खरीदकर उसे स्मारक बनाने का काम किया। बाबा साहब के जन्म स्थान और उनके जीवन से जुड़े सभी स्थलों को पीएम ने पंचतीर्थ के तौर पर विकसित कराया।

बाबा साहब के नाम पर ही भीम ऐप बनाया गया है जिसके जरिए लोग ई-ट्रांजेक्शन कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि यूपी ने हमेशा रिकार्ड बनाने का काम किया है। भाजपा को वर्ष 2014 के लोस चुनाव में 80 में से 73 सीटों पर जीत दिलायी, फिर विस 2017 में 325 सीटें दिलायी और अब राज्यसभा की दस में से नौ सीटों को देकर रिकार्ड को मजबूत किया है। 2019 के लोस चुनाव में सूबे की 22 करोड़ जनता मोदी व योगी के विकास कायरे से 80 लोस सीटें भाजपा की झोली में डालकर नया रिकार्ड कायम करेगी।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...

लखनऊ ट्रिब्यून

Vineet Kumar Verma

E-Paper