कैमरे में कैद हुई ऐसी चीज ,जिसे देख यकीन करना होगा मुश्किल

दुनिया में इस समय मिलाबट का इतना जोर चल रहा है। की जिसे न देखो भी मिलाबट करने में लगा हुआ है। पहले मिलाबट खोर पहनने की चीजों में मिलाबट करते थे लेकिन अब तो हद ही हो गई है। मिलाबतखोर ने अपनी अपनी हद ही बड़ा रखी है। अब तो उन्होंने खान पीने की चीजों में ही मिलाबट करना शुरू कर दिया है। आज हम आपको एक ऐसी ही चीज दिखने जा रहे है जिसे देख कर सायद ही आप उस चीज को दुबारा खाना पसंद करेंगे। हालाँकि हम आपको यंही पर क्लियर कर देते है हमारा लेख किसी तरह के NON-VEG खाने का समर्थन नहीं करता है।

यह खबर है NON-VEG खाने बाले लोग जो की हर चीज को बड़े ही चाव के साथ खाना पसंद करते है। हालाँकि हम और हमारी सभ्यता पुरे ब्रह्माण में एक मात्र ही जंहा पर जीवन है। और इस धरती पर तरह तरह के जीब पाए जाते है। और कई तो इस तरह के होते है जिन्हे हमने अपनी आँखों से सायद ही पहले कभी देखा होगा। इनमे भी कुछ जीब ही ऐसे होते है जो खुली धरती पर रहना पसंद करते है और बाकी के पानी में। धरती की इस दुनिया में कई तरह की जीबो की संख्या लाखो में है।

source
source

पूरी दुनिया में जितने जीव मौजूद है उतने तो पूरी दुनिया मैं इंसान भी मौजूद नहीं है। और इन सब के बाबजूद भी इंसान इनके ऊपर और तरह तरह के नए नए जीवो की खोज में लगा हुआ है। और उनके शोध मैं शामिल होता है की बह जीव किस प्रजाति से तालुक रखता है और उसके खान पासन की दिन चर्या कैसी है। और उसी तरह से इंसान के स्वभाव मैं भी लगातार बदलाव आते रहते है ,उसके खाने पीने से लेकर उसके हर स्वभाव मैं परिबर्तन आम बात है। शुरूआत मैं मनुष्य का पूरा का पूरा आहार मशाहारी पर ही निर्भर रहता था। और उसका मुख्य भोजन मछली को माना जाता रहा है।

source
source

और इस पूरी दुनिया मैं मछली को खाने के तौर पर पसंद करने बाले लोगो ने कई तरह तरह की मछलियों का सेवन किया होगा। और उन्होंने कई तरह की मछली की प्रजातियों को देखा भी होगा लेकिन हम आपको एक मछली की ऐसी प्रजाति के बारे में बताने जा रहे है। जो की अपने स्वभाव से सामान्य मछली से अलग है। और इस मछली के बारे में जानकर आप बाकी हैरान रह जायेंगे। आइये जानते है इस खाश मछली के बारे में।

जिस मछली की हम बात कर रहे है उसे आम भाषा में पीन फिश कहते है। और इस मछली का वैज्ञानिक नाम है Urechis unicinctus . लेकिन आपको यंही पर एक बात और बता दे की कुछ विज्ञानिको का मतभेद इस मछली को लेकर दुसरो से अलग है। बह वैज्ञानिक इस मछली को मछली प्रजाति का मैंने से इंकार करते है। उनके कहने के अनुसार उनका मानना है की यह एक तरह की मछली न होकर एक कीड़ा है। और आपको बता दे की पीन फिश आम तौर पर गहरे पानी और कीचड़ बाली जगहों पर मुख्य तौर पर पायी जाती है। और इसकी खाश बात यह होती है कि इसके अंदर किसी तरह की हदी नहीं पायी जाती है और यह बड़ा ही लचीला जीव है। और इसको खाने के तौर पर ज्यादा तर बात की जाये तो दक्षिण कोरिया के लोग इसको खाने के बहुत बड़े शौकीन होते है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper