कोरोनावायरस के वैश्विक आंकडे 48 लाख पार : जॉन्स हॉपकिंस

वाशिंगटन: जॉन्स हॉपकिंस विश्वविद्यालय के अनुसार वैश्विक कोरोनावायरस मामलों की कुल संख्या बढ़कर 48 लाख हो गई है, जबकि इस वायरस से मरने वालों की संख्या 3,23,000 को पार कर गई है। विश्वविद्यालय के सेंटर फॉर सिस्टम साइंस एंड इंजीनियरिंग (सीएसएसई)के नए अपडेट के अनुसार, विश्व भर में बुधवार सुबह तक कुल मामलों की संख्या बढ़कर 4,897,492 पहुंची, जबकि इस वायरस से अबतक 323,285 लोगों की मौत हो चुकी है।

वर्तमान में विश्व में सबसे अधिक कोरोनावायरस मामलों की संख्या अमेरिका में है। यहां अबतक कुल कोरोनावायरस संक्रमितों की संख्या 1,528,568 है, जबकि इसकी चपेट में आकर मरने वालों की संख्या 91,921 है। रूस में मामलों की संख्या दूसरे स्थान पर है, यहां संक्रमितों की संख्या 299,941 है, जिसके बाद ब्राजील में 271,885, ब्रिटेन में 250,138, स्पेन में 231,606, इटली में 232,037, फ्रांस में 180,933, जर्मनी में 177,778, तुर्की में 151,615 और ईरान में 124,603 मामले दर्ज किए गए हैं।

इस बीच, ब्रिटेन में कोरोनावायरस से मरने 35,422 लोगों की मौत हो गई। मौत का आंकडा 10,000 पार करने वाले अन्य देश, इटली में कोरोनावायरस से 32,169 लोगों की मौत, फ्रांस में 28,025, स्पेन में 27,778 और ब्राजील में 16,983 लोगों की मौत हो चुकी है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper