कोरोना इफ़ेक्ट : सेक्स लाइफ भी बिगड़ेगी

कोरोना वायरस से एक और ख़तरा सामने आया है. कहा जा रहा है कि यह वायरस पुरुषों के सेक्स हार्मोन्स पर असर डाल रहा है. उन्हें नपुंसक बना रहां है. इससे पुरुषों के अंडकोष खराब हो रहे हैं. साथ ही उनमें उत्तेजना की कमी आ सकती है. इस बात का खुलासा किया है चीन वुहान स्थित यूनिर्सिटी ने.
वुहान यूनिवर्सिटी के झॉन्गनान अस्पताल में किए गए अध्ययन की रिपोर्ट medRxiv.org पर प्रकाशित हुई है. झॉन्गनान अस्पताल ने यह अध्ययन कोरोना वायरस से बीमार 81 पुरुषों पर किया है. ये 81 पुरुष 20 से लेकर 54 साल तक की उम्र के थे. इस अध्ययन में झॉन्गनान अस्पताल की मदद के लिए हुबेई क्लीनिकल रिसर्च सेंटर फॉर प्रीनेटर डायग्नोसिस एंड बर्थ हेल्थ के वैज्ञानिकों ने भी मदद की है.
ये सभी मरीज वुहान के झॉन्गनान अस्पताल में जनवरी में भर्ती हुए थे. इन सभी मरीजों के सेक्स हार्मोन की जांच तब की गई जब ये ठीक होने वाले थे. क्योंकि पुरुषों के हार्मोन पर क्या असर पड़ा ये बाद में ही दिखता.
झॉन्गनान अस्पताल के डॉक्टरों की टीम ने पाया कि इन मरीजों के शरीर में टेस्टोस्टेरॉन और ल्यूटीनाइसिंग हार्मोन का अनुपात बिगड़ रहा है. इसे T/LH अनुपात कहा जाता है. अगर T/LH अनुपात बिगड़ता है तो पुरुषों के अंडकोष सही से काम नहीं करते. उनमें वीर्य बनना कम हो जाता है. या फिर बंद हो जाता है. साथ ही सेक्स हार्मोन की कमी आ जाती है. जिन पुरुषों का अध्ययन किया गया उनमें T/LH अनुपात 0.74 था. यानी सामान्य स्तर के आधे से भी कम. यह बेहद चिंताजनक बात है. इससे खतरा अगली पीढ़ी को हो जाएगा.
टेस्टोस्टेरॉन हार्मोन पुरुषों का मुख्य हार्मोन होता है जो अंडकोष, मांसपेशियां, हड्डियां और बाल बनाने में मदद करता है. ल्यूटीनाइसिंग हार्मोन पुरुष और महिलाओं दोनों में होता है. इससे पुरुष और महिलाएं उत्तेजित होते हैं.

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper