कोरोना: 61 वर्षीय महिला की लापरवाही पड़ी भारी, 5000 लोगों को कर दिया बीमार

सियोल: देश और दुनिया में कोरोना वायरस ने कहर बरपा रखा है और इस वायरस से कहर से अब दक्षिण कोरिया भी नहीं बच पाया है। वहीं दक्षिण कोरिया से एक बड़ी खबर सामने आई है। दक्षिण कोरिया में एक कोरोना संक्रमित महिला ने अन्य 5000 लोगों कोरोना वायरस से संक्रमित कर दिया। 61 साल की महिला की लापरवाही का खामियाजा पूरा साऊथ कोरिया भुगत रहा है। बताया जा रहा है कि महिला कोरोना वायरस से संक्रमित होने के बाद भी सार्वजिनक स्थानों पर गई। इसके बाद महिला जहां-जहां गई वहां-वहां सक्रमण के मामले सामने आए।

जानकारी के अनुसार साउथ कोरिया की राजधानी के दक्षिण में 150 मील (240 किमी) दूर के डेगू शहर में एक महिला के कोरोना वायरस संक्रमित होने के कारण ये वायरस इतनी तेजी से फैला है। बता दें कि कोरोना वायरस की वजह से साउथ कोरिया में अब तक 8961 लोग संक्रमित हैं। साथ ही अबतक वहां 111 लोगों की मौत हो चुकी है।

ये महिला संक्रमित होने के बाद 9 फरवरी को ये शेंचोंजी चर्च गई, जिसके बाद वहां पर 1000 से ज्यादा लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हो गए। इसके अलावा महिला 14 फरवरी को क्वीन वैल होटल गई जिसके बाद वहां पर भी 1000 से ज्यादा लोग संक्रमित पाए गए। इस तरह से बढ़ते-बढ़ते ये संख्या 5000 से ज्यादा लोगों तक पहुंच गई। धीरे-धीरे यह वायरस पूरे साउथ कोरिया में फैल गया और किसी को इस बात का पता भी नहीं चला।

डब्ल्यूएचओ के मुताबिक, कोविड-19 महामारी तेजी से फैल रही है। इसने पहले एक लाख मरीजों का आंकड़ा छूने में जहां 67 दिन का वक्त लिया, वहीं दो लाख की संख्या तक केवल 11 दिन में पहुंच गई। यह गिनती महज 4 दिन के भीतर 3 लाख से पार हो गई है। दुनिया के लगभग सभी देश इससे प्रभावित हैं। वहीं अगर बात भारत की जाए तो यहां अब तक कोरोना वायरस की चपेट में 499 लोग आ चुके हैं। वहीं इसकी वजह से 10 लोगों की मौत हो चुकी है। देश के कई राज्यों में लॉकडाउन कर दिया है। वहीं पीएम नरेंद्र मोदी ने भी लोगों से अपील की है कि वह घर से बाहर न निकलें।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper