क्रिश्चियन मिशेल प्रत्यर्पण पर बोले दिग्विजय सिंह- डोभाल कब बने सुपर कॉप

नई दिल्ली। वीवीआईपी अगस्ता वेस्टलैंड हेलीकॉप्टर सौदे के बिचौलिया क्रिश्चियन मिशेल को सीबीआई की विशेष अदालत ने पांच दिनों की सीबीआई रिमांड पर भेज दिया है। इसी बीच दुबई से उसके प्रत्यर्पण में एनएसए अजीत डोभाल की भूमिका पर कांग्रेस ने आपत्ति जताई है। कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने कहा कि क्या एनएसए को मोदी सरकार ने सुपर कॉप बना दिया है, जो हर मामले में दखल रखते हैं।

पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने क्रिश्चियन मिशेल के प्रत्यर्पण पर कहा कि गांधी परिवार कभी भी डरा नहीं है, और न ही बैकफुट पर आया है। पीएम मोदी द्वारा चॉपर घोटाला का एक राजदार हाथ लग जाने वाले बयान पर दिग्विजय ने कहा कि 2019 के चुनावी माहौल में ये मुद्दा उछालने की कोशिश की जा रही है। उन्होंने कहा कि जांच एजेंसियों द्वारा मिशेल पर गांधी परिवार को जानने की बात कबूल करते हुए जबरदस्ती साइन कराने की कोशिश हो रही है।

इससे पहले कांग्रेस नेता सलमान खुर्शीद ने कहा कि अगस्ता वेस्टलैंड केस में सीबीआई आज तक कुछ नहीं कर सकी। उन्होंने कहा कि कोर्ट और जनता के बीच अपनी साख बचाने के लिए सीबीआई की तरह से ये दिखावटी कार्रवाई की कर रही है। कहते हैं कि हाल ही में सीबीआई में जिस तरह से उठापठक का दौर चला है उसके केंद्रीय जांच एजेंसी की साख खतरे में है। खुर्शीद ने कहा कि जांच एजेंसी को एक ऐसे शख्स की तलाश रही थी जिसके सहारे वो अपनी काबिलियत साबित कर सकें। इसके साथ वो किसी न किसी के ऊपर दोष मढ़ना चाहते हैं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper