‘‘गाय, गांधी और गांव’ की राह पर भूपेश सरकार

रायपुर: छत्तीसगढ़ की भूपेश बघेल सरकार ने ‘‘गाय, गांधी और गांव’ को पहली प्राथमिकता में रखा है। यही कारण है कि राज्य में गांधी विचार-यात्रा, गौठान और रियायती राशन के जरिए गरीब और गांव को मजबूत करने के प्रयास जारी हैं। वहीं, भाजपा ने मुख्यमंत्री बघेल की इस मुहिम को राजनीति का हिस्सा करार दिया है।राज्य में कांग्रेस को सत्ता में आए नौ माह से ज्यादा का वक्त गुजर गया है, इस दौरान भूपेश बघेल की सरकार ने आवारा गोवंश को आश्रय देने के लिए गौठान बनाने का काम शुरू किया है तो दूसरी ओर, गांव को समृद्ध बनाने के लिए किसानों का कर्ज माफ किया और फसलों के दाम व तेंदूपत्ता संग्राहकों के बोनस में बढ़ोतरी की है। इसके अलावा गांधी का संदेश जन-जन तक पहुंचाने के लिए ‘‘गांधी विचार यात्रा’ निकाली जा रही है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि वह गांधी के रास्ते पर चलकर ही राज्य की सत्ता में आए हैं और अगले पांच साल में गांधी की ग्राम स्वराज की परिकल्पना को मजबूत करने के लिए काम करेंगे।

छत्तीसगढ़ में आवारा जानवर, खासकर गाय एक बड़ी समस्या बनी हुई है। यहां एक करोड़ 28 लाख से ज्यादा जानवर हैं, इनमें 30 लाख आवारा हैं, जिनके कारण खेतों की फसलों को नुकसान होने के साथ सड़कों पर हादसे भी होना आम रहा है। इन जानवरों, खासकर गायों के लिए गौठान बनाए गए हैं। राज्य में अब तक दो हजार गौठान बन चुके हैं। इन गौठानों के लिए ग्राम पंचायतों ने 30 हजार एकड़ जमीन दी है। गौठान वह स्थान है, जहां गायों के लिए खाने-पीने का पूरा इंतजाम होता है। मुख्यमंत्री कार्यालय के एक अधिकारी ने बताया कि अगले साल और एक हजार गौठान बनाने का लक्ष्य है, ताकि आवारा गायों को आश्रय मिल सके।

उन्होंने बताया कि धमतरी जिले का कंडेल ऐसा गांव है, जहां लोगों ने बगैर सरकारी मदद के गौठान बनाया है। यह वह गांव है, जहां अंग्रेजों के शासनकाल के दौरान नहर कर लगाए जाने पर आंदोलन हुआ था और महात्मा गांधी आए थे। इसी गांव से गांधी की 150वीं जयंती पर गांधी विचार यात्रा की शुरुआत हुई। सात दिन की इस राज्यस्तरीय यात्रा के बाद सात दिवसीय विकासखंड स्तरीय यात्रा शुरू हो रही है, जो गांवों तक जाएगी। मुख्यमंत्री बघेल ने गांधी की ग्राम स्वराज की परिकल्पना के अनुसार राज्य के अंतिम व्यक्ति को सशक्त बनाने का वादा किया है।

मायावती के करीबी रहे केके गौतम का भी अखिलेश को मिला साथ

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper