गुरु-शिष्य की परंपरा विश्व को भारत ने उपहार के रूप में दी है: ममता

कोलकाता: पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने गुरुवार को शिक्षक दिवस के अवसर पर कहा कि शिक्षक हमारे गुरु है और गुरु-शिष्य की परंपरा विश्व को भारत ने उपहार के रूप में दी है। बनर्जी ने ट्वीट कर कहा, ‘‘आज शिक्षक दिवस है। शिक्षक हमारे गुरु है और गुरु-शिष्य परंपरा दुनिया को भारत द्वारा दिया गया उपहार है। शिक्षक दिवस के अवसर पर स्कूलों, कॉलेजों और विश्वविद्यालयों में शिक्षकों को उनके योगदान के लिए “ शिक्षा रत्न सम्मान” के रूप में सम्मानित करते हैं।”

उन्होंने कहा कि बंगाल में वर्ष 2011 में तृणमूल कांग्रेस सरकार के सत्ता में आने के बाद से ही उनकी सरकार शिक्षकों की बेहतरी के लिए अथक प्रयास कर रही है। उन्होंने कहा कि सरकार हमेशा से ही शिक्षकों के लिए अच्छा करना चाहती है। इसी कारण उनकी सरकार ने वर्ष 2011 में ‘शिक्षा रत्न पुरस्कार’ की शुरुआत की और बनर्जी प्रति वर्ष उत्कृष्ट शिक्षकों को यह पुरस्कार प्रदान करती हैं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper