गैस सब्सिडी प्राप्तकर्ता खाताधारकों के लिए बड़ी खुशख़बरी – जानिए आपके खाते में सब्सिडी मिल रही है या नहीं!

मोदी सरकार ने ही गैस सब्सिडी का चलन लागू किया। और जिसके बाद हमारे देश में इसका बहुत से लोगो ने लाभ भी उठाया। सब्सिडी स्कीम के तहत ग्राहकों को एक तय मूल्य पर गैस सिलेंडर मिलता है। और इसके बाद में कुछ राशि सब्सिडी के तौर पर बैंक खाते में वापस कर दी जाती है। लेकिन हमें समस्या तब आती है जब हमें पता ही नहीं होता है की खाते में पैसा आ रहा है या नहीं।

कुछ लोगों को पता नहीं होता है की उनके खाते में सब्सिडी आ रही है या नहीं आ रही है। यदि आपको भी बैंक खाते में सब्सिडी नहीं मिल रही है तो आपको डरने की जरूरत नहीं है। और ना ही आपको गैस एजेंसी के चक्कर लगाने की जरुरत है। क्योंकि आपको आज हम एक ऐसा आसान तरीका बताने वाले है जिससे आप जानेंगे की आपके खाते में सब्सिडी मिल रही है या नहीं।

आपको LPG की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना है। वहां पर आपको सबसे पहले LPG ID डालनी है। और आपसे रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर माँगा जाएगा। इसके बाद ok करने पर आपको सब्सिडी की सारी डिटेल मिल जाएगी। वहां से आप सब्सिडी का स्टेटस जान सकते है।

वहां पर आपको सभी प्रकार की जानकारी मिल जाएगी जो आपको एक गैस एजेंसी में मिलती है। इसके बाद आप इस तरह से घर बैठे ही सब्सिडी का स्टेटस चेक कर सकते है। इसमें आपको कब-कब और कितनी राशि सब्सिडी के रूप में आपके अकाउंट में डाली गई है सभी जानकारियाँ मिल जाएगी।

और अगर आपके अकाउंट में सब्सिडी का पैसा नहीं आ रहा है तो आप फीडबैक वाले बटन पर जाकर शिकायत भी कर सकते है। इस तरह से आप घर बैठे ही अपनी सब्सिडी का स्टेटस चेक कर सकते है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper