गोमतीनगर में महिला ने 11वीं मंजिल से कूदकर दी जान

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के गोमतीनगर विस्तार स्थित बेतवा अपार्टमेंट की 11वीं मंजिल से कूदकर महिला ने जान दे दी। उसने यह मौत की छलांग इस लिए लगाई की उसका झगड़ा पति से हुआ था और वह गुस्से में पागल होकर कूद गयी। महिला फ्लैट में पति व दो बेटों के साथ रहती थी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

गोमतीनगर पुलिस का कहना है कि कानपुर निवासी आलोक चौहान की 2005 में सुमिति के साथ शादी हुई थी। दम्पति के दो बेटे पृवीराज (12) और यशवर्धन (4) हैं। आलोक पत्नी व बच्चों के साथ गोमतीनगर विस्तार स्थित बेतवा अपार्टमेंट ई-ब्लॉक फ्लैट नम्बर-1103 में किराये पर रहता है। आलोक यूएसबी फार्मा कम्पनी में मेडिकल रिप्रिजेंटेटिव (एमआर) है। पत्नी सुमिति गृहणी थी। सोमवार शाम करीब 6.30 बजे आलोक घर आया था। इस दौरान किसी बात को लेकर उसका पत्नी से झगड़ा हो गया।

बात इतनी बढ़ी कि सुमिति ने उसे आत्महत्या की धमकी दी और फ्लैट से बाहर निकल गयी। आलोक उसके पीछे गया, लेकिन तब तक सुमिति ने रेलिंग फांदकर छलांग लगा दी। सुमिति की चीख सुनकर आलोक ने रेलिंग से झांक कर देखा तो वह नीचे जमीन पर पड़ी थी। वह सीढ़ी के रास्ते भागते हुए पहली मंजिल तक गया और फिर पहली मंजिल की रेलिंग से कूदकर पत्नी के पास पहुंचा। आलोक ने खून से लथपथ सुमिति को गोद में उठाया और डाक्टर के पास ले जाता तब तक उसकी मौत हो चुकी थी।

शोर शराबा सुनकर सोसाइटी के लोग भी एकत्र हो गए। इसी बीच किसी ने पुलिस कन्ट्रोल रूम को सूचना दी। इंस्पेक्टर गोमतीनगर त्रिलोकी सिंह पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे और जांच शुरू की। तो पता चला कि दोनों बच्चे घर पर ही थे। पुलिस ने दोनों बच्चों पृवीराज और यशवर्धन से घटना के बारे में पूछा तो बच्चों ने बताया कि मम्मी-पापा के झगड़ा कर रहे थे। इस बीच मम्मी गुस्से में फ्लैट से बाहर चली गई। उनके पीछे पापा भी बाहर निकले, लेकिन मम्मी ऊपर से कूद चुकी थी।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
loading...
E-Paper