चारबाग से बाराबंकी सहित तीन रूटों पर सोमवार से नहीं चलेंगी सिटी बसें

लखनऊ ब्यूरो। सिटी परिवहन की बसें सोमवार से लखनऊ के चारबाग बस अड्डे से बाराबंकी सहित तीन रूटों पर नहीं चलेंगी। सिटी बसों का संचालन तीन रूटों पर बंद होने से यात्रियों को दिक्कतें हो सकती हैं।

सिटी ट्रांसपोर्ट के प्र​बंधक निदेशक आरिफ सकलैन ने शनिवार को बताया कि सोमवार से सिटी बसों का संचालन तीन रूटों पर पूरी से बंद कर दिया जाएगा। इनमें चारबाग से बाराबंकी रूट पर 24 से अधिक सिटी बसें नहीं चलेंगी। इसके अलावा कैसरबाग और चारबाग से मोहनलालगंज की बसों का संचालन नहीं किया जाएगा। अभी मोहनलालगंज और माल तक दस-दस और बाराबंकी तक 25 नगर बसों का संचालन किया जा रहा है।

उन्होंने बताया कि चारबाग से बाराबंकी जाने वाली बसें बीबीडी तक जाएंगी। कैसरबाग से माल जाने वाली बसें दुबग्गा तक जाएगी। वहीं चारबाग से मोहनलालगंज जाने वाली बसें पीजीआई तक संचालित होंगी। इसके अलावा ग्रामीण क्षेत्रों में चल रही सिटी बसें अब 14 जनवरी से शहरी सीमा से आगे नहीं जा पाएंगी।

प्रबंधक निदेशक ने बताया कि रोडवेज प्रशासन ने आपत्ति जताते हुए मांग की थी कि सिटी बसें शहरी सीमा छोड़कर ग्रामीण और दूसरे जिलों तक पहुंचकर सवारियां उठा रही हैं। इससे वाहनों का दबाव तो बढ़ता ही है,साथ ही जाम की स्थिति भी बनती है। इसे लेकर मंडलायुक्त ने तत्काल लखनऊ नगर निगम की सीमा के भीतर ही सिटी बसों का संचालन करने का निर्देश दिया है। फिलहाल अभी तक नगर बसें माल, मोहनलालगंज और बाराबंकी तक जाती थीं।

उन्होंने बताया कि अब नई सीमा के तहत ही शहर से सटे ग्रामीणांचल में सोमवार से नगर बसों का प्रवेश नहीं होगा। माल और आसपास के क्षेत्र तक चलने वाली नगर बसें सीतापुर बाईपास तक ही जा पाएंगी। उसके बाद बसों को लौटना होगा। इसी तरह बाराबंकी तक जाने वाली नगर बसें बीबीडी तक पहुंचकर वहीं से लौटेंगी। इसके अलावा मोहनलालगंज तक जाने वाली नगर बसें भी पीजीआई से ही मुड़कर वापस अपने रूट पर आ जाएंगी।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper