चेतावनी के बाद भी न सुधरे तो निलंबन के लिए तैयार रहें

लखनऊ: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बीते दिन एक बैठक में अफसरों को साफ कर दिया है कि चेतावनी के बाद भी जिन अफसरों में सुधार नहीं होगा, उन्हें निलम्बन के लिए तैयार रहना होगा। यूपी की 22 करोड़ जनता की समस्याओं के समाधान में शिथिलता व लापरवाही को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।सीएम का यह सख्त तेवर 5 कालीदास पर अपने सरकारी आवास पर जनसुनवाई पण्राली व ‘‘1076 सीएम हेल्पलाइन’ पर वीडियो कॉन्फ्रेन्सिंग के दौरान सामने आया।

उन्होंने अधिकारियों को कार्यालय समय से पहुंचने और प्रतिदिन 1 घण्टा जनसुनवाई करने को कहा। उन्होंने कहा इसमें किसी भी स्तर पर शिथिलता या लापरवाही पर अधिकारियों की जवाबदेही सुनिश्चित कर, उन्हें दण्डित किया जाएगा। उन्होंने अफसरों की संवेदनशीलता, अनुशासन व जिम्मेदारियों के निर्वहन पर जोर दिया।मुख्यमंत्री के निशाने पर थे दस जिलाधिकारी। उन्होंने कहा कि जनसुनवाई में बड़ी संख्या में शिकायतों का मिलना दिखाता है कि अपेक्षित कार्रवाई नहीं की जा रही है।

यदि कार्रवाई हो भी रही है, तो उससे शिकायतकर्ता संतुष्ट नहीं है। योगी ने सीएम हेल्पलाइन में सर्वाधिक शिकायतों वाले तीन जिलों प्रयागराज, प्रतापगढ़ एवं जौनपुर के डीएम को कार्य पण्राली में सुधार लाए जाने के निर्देश दिए। पंचायतीराज विभाग से सम्बन्धित सफाई, पेयजल व भ्रष्टाचार आदि में सर्वाधिक खराब प्रदर्शन वाले प्रयागराज, आगरा एवं बदायूं रहे। खाद्य और रसद के तहत खाद्यान्न एवं मिट्टी के तेल में खराब प्रदर्शन वाले गोण्डा व आगरा तथा सड़कों की मरम्मत के सम्बन्ध में खराब प्रदर्शन वाले प्रयागराज, वाराणसी व बरेली रहे।

मुख्यमंत्री ने इन जिलों के जिलाधिकारियों को फटकार भी लगायी। मुख्यमंत्री लखनऊ सहित अन्य जनपदों में प्लास्टिक, पॉलीथीन एवं थर्मोकोल के प्रयोग पर कड़ाई से नियंतण्रकिए जाने के निर्देश दिए। उन्होंने कानपुर नगर, मेरठ, वाराणसी नगरों में गन्दगी एवं साफ-सफाई की कमी के लिए सम्बन्धित अधिकारियों के विद्ध आवश्यक कार्रवाई किए जाने के भी निर्देश दिए। इसके अलावा मुख्यमंत्री ने कहा कि थानों पर मेरिट के आधार पर पोस्टिंग हो। किसी दागी अधिकारी को पोस्टिंग न दी जाए।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper