‘छपाक’ से प्रभावित हुई उत्तराखंड सरकार, राज्य में एसिड अटैक सर्वाइवर्स के लिए शुरु होगी पेंशन स्कीम

देहरादून: उत्तराखंड की बीजेपी सरकार ने दीपिका की ‘छपाक’ से प्रभावित होकर एसिड अटैक पीड़ितों के लिए पेंशन स्कीम शुरु करने की घोषणा की है। महिला एवं बाल विकास मंत्री रेखा आर्य ने खबर की पुष्टि की। उन्होंने कहा कि हम इसके जरिए पीड़ितों की मदद करना चाहते हैं, जिससे वे सम्मान के साथ जीवन जी सकें।

रेखा आर्य के अनुसार, हम इस प्रपोजल को कैबिनेट के सामने सहमती के लिए रखेंगे। इस स्कीम के लागू होने के बाद एसिड अटैक सर्वाइवर को हर माह 5-6 हजार रुपए दिए जाएंगे। इन रुपयों से उन्हें अपने सपने पूरे करने में मदद मिलेगी। आंकड़ों के अनुसार राज्य में इस समय एसिड अटैक पीड़ितों की संख्या करीब 11 है।

उन्होंने कहा कि महिलाओं पर हो रहे अत्याचारों पर रोक लगे और लड़कों को शिक्षित करना चाहिए कि महिलाओं से कैसे व्यव्हार करें। उन्होंने फिल्म पर जारी कंट्रोवर्सी पर कहा कि यह एक किसी के असली संघर्षों की कहानी है और अगर उस व्यक्ति को कोई आपत्ति नहीं है तो इसे मुद्दा नहीं बनाना चाहिए।

10 जनवरी को रिलीज हुई फिल्म ‘छपाक’ ने बॉक्स ऑफिस पर अब तक औसत प्रदर्शन किया है। फिल्म ट्रेड एनालिस्ट तरन आदर्श के मुताबिक फिल्म की पहले दिन 4.77 करोड़ रुपए की साधारण कमाई की। हालांकि फिल्म ने दूसरे दिन यानी शनिवार को 6.90 करोड़ रुपए कमाए। इस लिहाज से फिल्म की अब तक कुल कमाई 11.67 करोड़ रुपए हो गई है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper