छोटी लड़ाइयां बड़े झगड़ों की वजह बन जाती हैं, न करें अपने पार्टनर से ये 3 बातें !

जहां प्यार है वहां लड़ाई है. लेकिन कभी-कभी यही छोटी लड़ाइयां बड़े झगड़ों की वजह बन जाती हैं. इसीलिए पार्टनर से लड़ाई करने के भी कुछ रूल्स होने चाहिए,

ताकि बात ज़्यादा आगे ना बढ़े. इन रूल्स का सबसे बड़ा फायदा ये होगा कि आप दोनों में प्यार कम नहीं होगा और आपका रिलेशनशिप हमेशा एवरग्रीन बना रहेगा. इन रूल्स में क्या-क्या शामिल होने चाहिए, जानिए यहां.

1. It’s Over
हर झगड़े पर पार्टनर को छोड़ने या पीछा छुड़ाने की बात करना सही नहीं. इससे प्यार में कमी आती है और आपका साथी शॉर्ट टेम्पर्ड हो जाता है. इसी वजह से झगड़ा बार-बार और जल्दी होता है.

2. कमियां गिनाना
कोई भी इंसान परफेक्ट नहीं होता. हर किसी में कमी होती है. सिर्फ कुछ ही इंसान अपनी उन कमियों को स्वीकार कर पाते हैं और बाकी उससे दूर भागते हैं. अगर आप झगड़ा करते वक्त अपने पार्टनर की कमियों को उन्हें गिनाएंगे तो इससे आप दोनों के बीच में नेगेटिविटी बढ़ेगी, जिसका नतीजा होगा आगे भविष्य में और लड़ाइयां.

3. गालियां
झगड़े के दौरान लोग सबसे बड़ी गलती अपने पार्टनर को गाली देकर करते हैं. चाहे वो मज़ाक में दी हुई हो या गुस्से में, ये गलती लंबे समय के लिए आपके रिलेशनशिप को खराब करती है. शांत रहने वाले पार्टनर चाहे उस वक्त रिएक्ट ना करें लेकिन यह शब्द उनके मन में रह जाते हैं और अगली लड़ाई की यही वजह बनते हैं.

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper