जब रिश्तों में आपको डर सताने लगे तो जरूर अपनाएं ये टिप्स

हमेशा अपने पार्टनर को सुझाव दें. बिना इस डर के, कि वह आपके सुझाव को मानेगा चलिए जानते हैं वो कौन से ऐसे तरीके हैं जिनकी मदद से आप अपने डर को दूर कर सकती हैं.

जब आपको जरूरत हो मदद के लिए तो खुलकर बोलें – कभी भी अपने डर को अपने रिश्ते पर हावी नहीं होने देना चाहिए वरना इससे आपका रिश्ता टूट सकता है. अगर आपको किसी भी तरह की मदद की जरूरत पड़ें तो आपको बिना किसी झिझक के अपने पार्टनर से बात करनी चाहिए.

अपने सुझाव जरूर दें– हमेशा अपने पार्टनर को सुझाव दें. बिना इस डर के, कि वह आपके सुझाव को मानेगा या नहीं. इससे आपका पार्टनर आपकी बातों पर कैसी प्रतिक्रिया देता है आपको यह पता चलेगा. साथ ही झिझक खत्म होने से आप अपने रिश्ते को और मजबूत बना सकती हैं.

स्पष्ट रूप से बातचीत करें – अगर आप अपने साथी से किसी बात को लेकर डरती हैं, तो आपको खुलकर उनसे बात करनी चाहिए क्योंकि अगर आप ऐसा नहीं करेंगे तो यह आपके रिश्ते को गलत दिशा में ले जा सकता है और शायद इससे आपका रिश्ता टूट भी सकता है. किसी भी रिश्ते में डर को दूर करने के लिए आपको हर एक बात को शेयर करना चाहिए.

पूरी वफादारी से जवाब – कभी भी अपने साथी से किसी भी बात को लेकर झूठ बोलने की कोशिश नहीं करनी चाहिए. यह आपके साथ-साथ आपके रिश्ते को भी कमजोर कर देता है. किसी भी बात का जवाब पूरी वफादारी से दें और अपने अंदर के डर को दूर करें.

अगर आप गलत भी हो तो भी आपको बिना डरे अपने पार्टनर से उस बारे में बात करनी चाहिए. यह आपके डर को खत्म करने के साथ-साथ आपके रिश्ते को और भी गहरा कर देगा.

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper