जानिए इस पेड़ के अनगिनत फायदे, जो सेहत में देते है लाभ

घर में किसी भी तरह की विशेष पूजा-पाठ में अशोक के पत्तों को बादरवाल के तौर पर घर में लगाया जाता है जिसे लगाना बेहद शुभ होता है लेकिन यह अशोक के पत्तें सेहत सबंधी कई तरह की परेशानियों को भी दूर करते है इसके पत्ते, छाल, फूल, बीज और यहां तक कि जड़ें भी दवा के रूप कई रोगों के उपचार में बेहद फायदेमंद है।

आइए जाने इस पेड़ के पत्तों के विशेष फायदे जिससे आप अनजान है…

महिलाओं के शरीर में कई प्रकार के रोगों को दूर करने में अशोक के पत्ते बेहद लाभकारी है माहवारी के समय होने वाला कष्ट हो या श्वेत प्रदर की समस्या, इस परेशानी को दूर करने में अशोक के पत्ते बेहद लाभकारी है इसकी छाल को पीसकर बराबर मात्रा में मिश्री के साथ लेने से 3 दिन में आपको बेहतरीन लाभ होगा। अशोक की छाल को पानी में उबालकर गाढ़ा काढ़ा तैयार करे इसे सरसो के तेल के साथ मिक्स करके फोड़े फुंसी वाली जगह पर लगाएं इससे आपकी त्वचा में बेहद फायदा होगा।

पथरी की समस्या को दूर करने में अशोक के बीज बेहद लाभकारी है अशोक के बीजों की 2 ग्राम मात्रा लेकर पानी के साथ पीस लेंने और दो चम्मच इसे रोजाना पीने से आपको पथरी के दर्द की परेशानी में आराम मिलेगा। पेशाब सबंधी परेशानी को दूर करने के लिए अशोक के बीज बेहद लाभकारी है बीजों को पानी में पीसकर नियमित 2 चम्मच पीने से पेशाब में रूकावट सबंधी कई तरह की परेशानी जल्द से जल्द दूर होगी।

दो से तीन ग्राम की मात्रा में अशोक के फूल लेकर इन्हें दही में मिक्स करके खाने से गर्भनिरोधक सबंधी समस्याएं भी जल्द से जल्द दूर होगी और इससे आप आसानी से गर्भधारण कर सकते है ।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper