जानिए ब्लू ही क्यों होता हैं इन्डियन क्रिकेट टीम का रंग

लखनऊ: क्रिकेट भारत में सबसे ज्यादा पसंद किया जाने वाला खेल है पर क्या आपने कभी सोचा है की भारतीय क्रिकेट खिलाडियों की यूनिफार्म का रंग नीला ही क्यों होता है कोई और कलर क्यों नहीं तो आईये जानते हैं क्या हिया इसके पीछे का मुख्य कारण |

ज़्यादातर देश की क्रिकिट टीम का रंग उनके नेशनल फ्लेग या राष्ट्रिय ध्वज से मिलता है पर भारत में ये संभव नहीं हो पाया क्यूंकि भारत के राष्ट्रिय ध्वज में तीन रंग हैं सबसे पहले केसरिया आता है इस रंग को इसलिए नहीं लिया गया क्यूंकि भारत के बड़े-बड़े राजनेतिक दल भी अपने ध्वज में केसरिया रंग का इस्तेमाल करते हैं इसलिए क्रिकेट टीम में इस रंग का इस्तेमाल करने से परहेज़ किया गया |

राष्ट्रीय ध्वज में दूसरा रंग सफ़ेद है इसके इस्तेमाल पर भी पूरी पाबन्दी लग गई क्यूंकि पहले के समय में वनडे क्रिकेट में सभी टीम सफ़ेद रंग का इस्तेमाल करती थी| तिरंगे का तीसरा रंग हरा है हरे रंग का इस्तेमाल इसलिए नहीं हो पाया क्यूंकि पाकिस्तान की क्रिकेट टीम इस रंग का इस्तेमाल पहले से ही कर रही थी इन तीनो रंग पर रोक लगने के बाद भारतीय टीम को नीले रंग की यूनिफार्म मिली क्यूंकि तिरंगे में अशोक चक्र का रंग नीला है और यही अंतिम विकल्प था भारतीय क्रिकेट टीम पहले हलके नीले रंग की यूनिफार्म पहनती थी जो समय के साथ बदल गई है और आज की तारीख में भारतीय क्रिकेट टीम थोड़े गहरे नील रंग की यूनिफार्म पहनती है |

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper