जानें गणतंत्र दिवस से जुड़ी कुछ खास बातें

हम सभी जानते हैं कि 26 जनवरी 1950 को भारत का संविधान प्रभावी हुआ था। यही वजह है कि 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के रूप में मनाया जाता है। इस बार हम 70वां गणतंत्र दिवस मना रहे हैं। ऐसे में बच्चे हों या बड़े सभी इस राष्ट्रीय पर्व को बड़े हर्षोउल्लास के साथ मनाते हैं।

1. 26 जनवरी 1950 को हमारा संविधान लागू हुआ था। भारत का संविधान एक लिखित संविधान है। इस दिन भारत के राष्ट्रपति झंडा फहराते हैं।

2. भारतीय संविधान को बनने में 2 साल, 11 महीने और 18 दिन का समय लगा था।

3. गणतंत्र दिवस के दिन वीर चक्र, महावीर चक्र, परमवीर चक्र, कीर्ति चक्र और अशोक चक्र जैसे तमाम अवॉर्ड दिए जाते हैं।

4.  इस मौके पर नौसेना और थलसेना के द्वारा देश की आजादी के लिए लड़े शहीदों के सम्मान में बंदूकों और तोपों से सलामी दी जाती है।

5. गणतंत्र दिवस का जश्न तीन दिन तक चलता है। इसमें, कई कार्यक्रमों व ड्रिल का आयोजन किया जाता है। ‘बीटिंग द रिट्रीट’ सेरिमनी के साथ गणतंत्र दिवस के आयोजन की समाप्ति होती है।

6. भारत के राष्ट्रीय ध्वज को पिंगली वेंकैया ने डिजाइन किया था ।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper