जिंदगी लंबी चाहिए तो काम से ले कुछ दिन छुट्टी

लंदन: अगर आप चाहते हैं कि आपकी जिंदगी लंबी हो तो आपको अपने काम से कुछ दिन की छुट्टी लेकर वकेशन मनाना चाहिए। यह खुलासा हुआ है नए रिसर्च से। करीब 40 साल तक चली इस स्टडी के नतीजे बताते हैं कि वैसे लोग जिन्होंने 1 साल में 3 सप्ताह से कम की छुट्टी ली उनकी मौत की आशंका छुट्टी लेने वालों की तुलना में 3 गुना अधिक थी। फिन्लैंड की यूनिवर्सिटी ऑफ हेलसिन्की के प्रफेसर टीमो स्ट्रैंडबर्ग कहते हैं, अगर आप ऐसा सोचते हैं कि बिना छुट्टियां लिए हर वक्त किया गया आपका हार्ड वर्क आपको कोई नुकसान नहीं पहुंचाएगा क्योंकि आपकी लाइफस्टाइल हेल्दी है और आप अपनी सेहत पर पूरा ध्यान देते हैं तो आप गलत सोचते हैं।

इस स्टडी की शुरुआत 1970 में हुई थी और इसमें 1 हजार 222 मध्य आयु के लोगों को शामिल किया गया था जिनका जन्म 1919 और 1934 के बीच हुआ था। इन सभी लोगों को हाई ब्लड प्रेशर, स्मोकिंग और मोटापे की वजह से हार्ट डिजीज का खतरा था। रिसर्च में शामिल 50 प्रतिशत लोगों को एक्सर्साइज करने, खान-पान का ध्यान रखने, धूम्रपान से बचने और हेल्दी वेट मेनटेन करने की सलाह भी दी गई।

रिसर्च में शामिल वैसे लोग जिन्होंने 1 साल में 3 सप्ताह से कम की छुट्टी ली उनकी अगले 30 साल में मौत की आशंका 37 प्रतिशत अधिक थी। अनुसंधान कर्ताओं की मानें तो जब बात लंबी जिंदगी और स्ट्रेस से छुटकारा पाने की आती है तो सिर्फ हेल्दी डायट और रेग्युलर एक्सर्साइज ही काफी नहीं है। इसके लिए काम से छुट्टियां लेना भी जरूरी है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper