टिक-टॉक के वीडियो से खुला फरेबी पति का राज़, सच्चाई जान पत्नी के उड़े होश

नई दिल्ली। टेक्नोलॉजी ( technology ) के इस ज़माने में बच्चों से लेकर बूढ़ों तक हर कोई टिक टॉक ( tiktok ) के बारे में जनता है। लोग इसपर अपलोड किए जाने वीडियो देख खूब एंटरटेन होते हैं। लेकिन हाल ही में टिक-टॉक के वीडियो के ज़रिए महिला का तीन साल पहले गायब हुआ हुआ पति अचानक मिल गया। जो काम पुलिस तीन साल से न कर पाई वो टिक-टॉक ने कर दिखाया। आइए जानते हैं क्या है पूरा मामला। मामला है तमिलनाडु ( Tamil Nadu ) के विलुपुरम का। तीन साल पहले यहां का रहने वाला सुरेश अचानक लापता हो गया। उसका परिवार उसे हर जगह ढूंढता रहा लेकिन सुरेश कहीं नहीं मिला।

साल 2016 में गायब हुए सुरेश की पत्नी जयाप्रदा ने काफी इंतज़ार करते हुए पुलिस में उसके गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। लेकिन पुलिस को भी कोई सफलता नहीं मिली। सुरेश के गायब होने के तीन साल बाद एक दिन सुरेश की खबर लेकर उसका कोई रिश्तेदार आया। उस रिस्तेदार ने जयाप्रदा को टिक-टॉक का एक वीडियो दिखाया। वीडियो में जाया को एक शख्स दिखा जो दिखने में सुरेश जैसा ही था। ध्यान से देखने पर पता चला कि वह सुरेश ही है। वीडियो में सुरेश को देखते ही पत्नी के होश उड़ गए।

जयाप्रदा ने अपने पति के मिलने की खबर पुलिस को दी। जिसके बाद पुलिस ने सुरेश के टिक-टॉक अकाउंट पर नज़र रखनी शुरू की। जांच के बाद पुलिस ने सुरेश को होसुर से पकड़ा। पूछताछ करने पर उसने पुलिस को बताया कि घर में कुछ दिक्कतों की वजह से उसने परिवार को छोड़ दिया था। वह घर से भागकर होसुर आकर रहने लगा जहां वो एक मिस्त्री का काम करने लगा। इसके बाद उसकी मुलाकात एक ट्रांसवुमन से हुई और दोनों रिश्ते में आ गए। सुरेश टिक-टॉक की वीडियो उसके साथ बनाता है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper