डायबिटीज को कैसे करें कंट्रोल ?

मधुमेह एक गंभीर बीमारी है जिसे हम डायबिटीज भी कहते हैं। डायबिटीज रोगियों की संख्या संसार भर में तेजी से बढ़ रही है मधुमेह की बीमारी में रक्त में ग्लूकोज का स्तर सामान्य से अधिक बढ़ जाता है यदि रक्त में ग्लूकोज का बढ़ा हुआ लेवल लगातार बना रहे तो यह शरीर के अंग प्रत्यंगों को नुकसान पहुँचाना शुरू कर देता है।

डायबिटीज के लक्षण (Diabetes Symptoms) –
शरीर में कहीं भी घाव होने पर घाव का जल्दी ठीक ना होना, बिना काम करे शरीर में थकान होना, त्वचा का बार बार इन्फेक्शन हो ज़ाना, भूख और प्यास ज्यादा लगना ये सभी डायबिटीज के लक्षण हैं।

डायबिटीज के कारण (Causes of Diabetes ) –
भारी भोजन का अधिक मात्रा में सेवन करना, शारीरिक परिश्रम ना करना, चाय और दूध में चीनी का ज्यादा सेवन करना एवं धूम्रपान, मोटापा आदि डायबिटीज के प्रमुख कारण हैं।

तनाव से बचें –
मधुमेह रोग में स्ट्रेस या तनाव की भूमिका बहुत महत्वपूर्ण होती है स्ट्रेस या तनाव के कारणों को आपस में बात चीत करके हल करें । तनाव से बचने की पूरी कोशिश करें, सुबह – शाम योगा और प्राणायाम करने से स्ट्रेस कंट्रोल करने में सहायता मिलती है।

ख़ान पान में सुधार करें –
डायबिटीज में मीठे फलों को छोड़ कर अन्य फलों का सेवन करें, हरी सब्जियां ज्यादा से ज्यादा खाएं, भोजन को एक बार में ज्यादा खाने की बजाय छोटे छोटे अंतराल में ख़ानk खाएं, तेल और घी से बनी एवं तली भुनी चीजें जैसे- पूड़ी, समोसे, परांठे, आदि का सेवन बहुत कम करें।

जामुन –
जामुन का फल डायबिटीज में बहुत लाभदायक होता है और यह फल खाने में जितना स्वादिस्ट होता है उतना ही शुगर की तकलीफ को कम करने में लाभदायक होता है और जामुन की गुठली का चूर्ण बनाकर सुबह और शाम भूखे पेट पानी से ले सकते हैं

करेला –
करेला भी डायबिटीज में बहुत लाभदायक होता है और करेले का चूर्ण या करेले की सब्जी बनाकर भी आप इस्का सेवन कर सकते हैं। एवं करेले का जूस बनाकर 100-125 Ml की मात्रा में सुबह शाम भूखे पेट इस्का सेवन सकते है

खून में शुगर का लेवल कम ना हो जाये इसके लिए शुगर को समय समय पर चैक करते रहना चाहिए। एवं अन्य उपाय जरुरत के अनुसार उपयोग करने चाहिए।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...

लखनऊ ट्रिब्यून

Vineet Kumar Verma

E-Paper