तमिल सुपरस्टार रजनीकांत के खिलाफ FIR दर्ज, पेरियार पर की थी टिप्पणी

पुड्डुचेरी: द्रविड़ विदुथलई कषगम (डीवीके) ने ईवीएन रामास्वामी पेरियार की रैली को लेकर दिये गये विवादास्पद बयान के विरोध में तमिल सुपरस्टार रजनीकांत के खिलाफ मामला दर्ज कराया है। डीवीके के अध्यक्ष लोगू अयप्पन ने ग्रैंड बाजार पुलिस स्टेशन में मामला दर्ज कराया है। उन्होंने कहा कि अभिनेता रजनीकांत ने पेरियार की 1971 में सलेम की रैली से संबंधित तथ्यों से छेड़छाड़ कर उनकी छवि धूमिल करने का प्रयास किया है।

अयप्पन ने कहा कि अगर पुलिस रजनीकांत के खिलाफ कार्रवाई करने में नाकामयाब रही तो डीवीके उन सभी सिनेमाघरों के बाहर धरना प्रदर्शन करेगा, जहां रजनीकांत की फिल्म ‘दरबार’ प्रदर्शित हो रही है। बता दें कि रजनीकांत ने एम करुणानिधि और पेरियार ईवी रामसामी पर कथित तौर पर अपमानजनक टिप्पणी की थी। रजनीकांत ने कहा था ‘पेरियार हिंदू देवताओं के कट्टर आलोचक थे लेकिन उस समय किसी ने पेरियार की किसी ने आलोचना नहीं की।’

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper